मेट्रो अस्पताल में भीषण आग, शीशा तोड़ कर निकाले गए मरीज, रेस्क्यू जारी

0
101

नोएडा। नोएडा के मेट्रो अस्पताल में गुरुवार दोपहर भीषण आग लग गई। ये अस्पताल नोएडा के सेक्टर १२ में स्थित है। आग लगने के बाद दमकल की गाड़ियां मौके पर पहुंच गई हैं और आग बुझाने का काम जारी है। अस्पताल के शीशे तोड़कर लोगों को बाहर निकाला गया। आग लगने के दौरान दो दर्जन से अधिक मरीज अस्पताल में फंसे थे। हालांकि, उन्हें बाद में बाहर निकाल लिया गया है। आग किस वजह से लगी है कि अभी इसका पता नहीं लग पाया है। अस्पताल में लगी आग इतनी भीषण थी कि लोगों को खिड़कियों के कांच तोड़कर रस्सी बाहर लटकाकर बाहर निकाला गया है। अस्पताल में करीब २० से अधिक लोग फंसे हुए हैं, जिनमें इमरजेंसी और आईसीयू में भर्ती मरीज भी शामिल हैं। घटना के दौरान अस्पताल में मौजूद मरीजों को अब सेक्टर ११ में शिफ्ट किया है। सेक्टर ११ में मेट्रो अस्पताल की ब्रांच भी है। आग लगने के बाद अस्पताल में मौजूद आग बुझाने के यंत्र काम नहीं कर रहे थे। ऐसे में अस्पताल के प्रशासन पर एक बार फिर बड़े सवाल खड़े होते हैं। अस्पताल में इतना धुआं है कि मरीजों को भी सांस लेने में बेहद मुश्किल हो रही थी।
नोएडा के फायर ऑफिसर अरुणवीर सिंह का कहना है कि आग पर काबू पा लिया गया है, फंसे हुए सभी लोगों को बाहर निकाल लिया गया है। उन्होंने कहा कि अब सिर्फ अस्पताल में धुआं भरा हुआ है। उनका दावा है कि करीब ३ दर्जन लोगों को निकाला गया है, हालांकि अभी भी सर्च ऑपरेशन जारी है। घटना के दौरान कोई भी मरीज घायल नहीं हुआ है। बता दें कि मेट्रो अस्पताल शहर के बड़े अस्पतालों में शुमार है। नोएडा मेट्रो हॉस्पिटल में ३१७ बेड हैं और इसके दो यूनिट हैं। ११० बेड हार्ट इंस्टिट्यूट के २०७ बेड मेट्रो मल्टी स्पेशियलिटी हॉस्पिटल के हैं। इसकी शुरुआत १९९७ में हुई थी।