दिल्ली में आप पार्टी को लगा दोहरा झटका, तीसरे नंबर पर खिसके

0
37

नई दिल्ली (ईएमएस)। राजधानी दिल्ली की 7 लोकसभा सीटों के चुनाव परिणाम से आप को दोहरा झटका लगा है। भाजपा ने 7 लोकसभा सीटों पर फिर जीत हासिल कर अपनी स्थिति मजबूत की है। विकल्प की राजनीति के तौर पर उभरी आम आदमी पार्टी तीसरे नंबर पर चली गई है। लगातार चुनाव हार रही कांग्रेस ने अपने मत प्रतिशत से आप की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। दिल्ली के चुनावी दंगल में पहली बार 2013 के विस चुनाव में आप ने ताल ठोकी और कांग्रेस को तीसरे नंबर पर धकेल दिया था। दिल्ली में मुख्य मुकाबला आप और भाजपा के बीच हुआ। 2014 के आम चुनावों में आप सभी सात सीटें हारी, लेकिन उसके प्रत्याशी दूसरे नंबर पर रहे। आप ने कांग्रेस से दोगुने वोट हासिल किए। 2015 में हुए विधानसभा चुनावों में आप ने 67 सीटें जीतकर दिल्ली की सत्ता हासिल की। विस चुनाव में कांग्रेस को कोई सीट नहीं मिली थी। चुनावों के दौरान जीत के साथ दिल्ली में दूसरे नंबर पर रहने की भी चुनौती आप और कांग्रेस के सामने थी। दूसरे नंबर पर रहने वाले दल को ही भाजपा के खिलाफ मिलने वाले मतों का लाभ मिलेगा। बीते ५ साल से दिल्ली में आप व भाजपा के बीच मुकाबला है।