आईएमटी गाजियाबाद को इलाहाबाद हाईकोर्ट से मिली राहत

0
200

इलाहाबाद (ईएमएस) । इलाहाबाद हाईकोर्ट ने आईएमटी गाजियाबाद को एक बड़ी राहत दी है। हाईकोर्ट ने गाजियाबाद डेवलपमेंट अथॉरिटी द्वारा पिछले 1 माह में जो नोटिस और आदेश दिए थे। उन सभी को अगली सुनवाई तक के लिए हाईकोर्ट ने स्थगित कर दिया है।
आईएमटी गाजियाबाद की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता विवेक तंखा ने इलाहाबाद हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी। विवेक तंखा ने अदालत में कहा कि पिछले 30-40 साल पुरानी गलतियों को मुद्दा बनाकर, देश के एक बड़े शिक्षण संस्थान की एनओसी तथा नक्शों को रद्द नहीं किया जा सकता है। यदि कोई गलती है, तो उसे सुधारने का मौका दिया जाना चाहिए।
हाईकोर्ट ने सरकार के पक्ष को स्वीकार नहीं किया। आईएमटी गाजियाबाद को 75 करोड़ रुपए डिपॉजिट करने चाहिए। कोर्ट ने पांच करोड़ रुपए 15 जुलाई तक जमा करने के आदेश आईएमटी गाजियाबाद को देते हुए, अगले आदेश तक गाजियाबाद डेवलपमेंट अथॉरिटी द्वारा की गई कार्यवाही एवं समस्त आदेशों को स्थगित कर दिया है। इससे कमलनाथ और उनके परिवार को एक बड़ी राहत मिली है। उल्लेखनीय है, 6 जून से आईएमटी गाजियाबाद के 1500 छात्रों का नया बैच शुरू होने जा रहा है।