Current Crime
देश

केन्द्र व यूपी सरकारों ने राम मंदिर का विरोध किया तो तख्तापलट तय समझिए : स्वामी

नई दिल्ली (ईएमएस)। सर्वोच्च न्यायालय में राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद की सुनवाई जनवरी से शुरू होगी। जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने दावा किया कि सुनवाई शुरू होने के दो सप्ताह में ही हम केस जीत जाएंगे। भाजपा नेता ने कहा क्या केन्द्र सरकार और यूपी सरकार को इस मुद्दे का विरोध करने का माद्दा है। स्वामी ने चेतावनी दी अगर केन्द्र और यूपी सरकार ने उनका इस मामले में विरोध किया तो वह तख्तापलट कर देंगे।
हालांकि, उन्होंने उम्मीद जताई कि केन्द्र और राज्य सरकार ऐसा नहीं करेगी। सुप्रीम कोर्ट ने इससे पहले 29 अक्टूबर को हुई सुनवाई में राम मंदिर केस को जनवरी महीने तक के लिए स्थगित कर दिया था। इस मामले की सुनवाई जनवरी में होगी, लेकिन सुनवाई की तिथियों के बारे में फिलहाल कुछ तय नहीं किया गया है। यह मामला अब कोर्ट की नई बेंच के सामने जाएगा। बेंच तय करेगी कि विस्तृत सुनवाई कब से शुरू होगी और क्या सुनवाई रोज़ाना चलेगी। अभी यह भी तय नहीं हुआ है कि 29 अक्टूबर को सुनवाई करने वाले मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई, जस्टिस संजय किशन कौल और केएम जोसफ ही आगे सुनवाई करेंगे या फिर तीनों जज नए होंगे। स्वामी ने कहा इस मामले की सुनवाई करने वाली बेंच में कौन जज होगा, इसका पता दिसंबर के मध्य तब चलेगा, जब जनवरी में लगने वाले मामलों की अग्रिम सूची प्रकाशित होगी। स्वामी को इस कार्यक्रम में न्याय प्रक्रिया और राजनीति और राम मंदिर विषय पर बोलने के लिए आमंत्रित किया गया था।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: