Current Crime
देश

हैदराबाद : मुसी नदी पर बना पुराना पुल दरार के कारण बंद

हैदराबाद | मुसी नदी पर बने मशहूर पुराने पुल के एक खंभे में दरार आने के बाद इसे ट्रैफिक के लिए बंद कर दिया गया है। पुलिस ने कहा कि एक तरफ हुसैनी आलम और बहादुरपुरा की तरफ से आने वाले ट्रैफिक और दूसरी तरफ के करवन और जियागुड़ा से आने वाले ट्रैफिक को डायवर्ट कर दिया गया है। ट्रैफिक पुलिस ने पुल के दोनों सिरों पर बैरिकेडिंग कर दी है। यहां पर पुल से गुजरने वाले कुछ यात्रियों ने इसमें कंपन होने की शिकायत भी की थी।
पुराना पुल पुराने शहर और करवन, धूलपेट, जियागुड़ा, मेहदीपटनम, आसिफनगर और तपचबुत्रा जैसे क्षेत्रों को जोड़ने वाला अहम जरिया है। अब पुल के बंद होने से नदी के दोनों ओर सड़कों पर ट्रैफिक जाम हो गया है। हालांकि ट्रैफिक को पुराना पुल के समानांतर बने मुसल्लम जंग पुल की ओर मोड़ दिया गया है, जिससे थोड़ी आसानी हुई है।
पुराना पुल मुसी नदी पर बना तीसरा पुल है जिसे पिछले एक सप्ताह में शहर में हुई भारी बारिश और बाढ़ के बाद बंद किया गया है।
बता दें कि हिमायत सागर जलाशय से पानी छोड़े जाने के कारण मुसी नदी पहले से ही उफान पर है। उस पर भारी बारिश के कारण स्थिति और बिगड़ गई है। हैदराबाद मेट्रो जल आपूर्ति और सीवरेज बोर्ड के अनुसार, हिमायत सागर का स्तर 1762.80 फीट पहुंच गया है, जबकि इस का पूरा स्तर ही 1763.500 फीट है। अधिकारियों का कहना है कि 20 साल बाद यह पहला मौका है जब मुसी में इस तरह बाढ़ आई है। इतिहासकारों का कहना है कि 28 सितंबर, 1908 में हजारों लोग मारे गए थे, उस समय भारी बारिश के कारण मुसी नदी में आई बाढ़ ने तबाही मचा दी थी, जिसके बाद हैदराबाद राज्य के निजाम ने बाढ़ को नियंत्रित करने के लिए हिमायत सागर और उस्मान सागर का निर्माण कराया था। ये जलाशय कुछ साल पहले तक पीने के पानी के एकमात्र स्रोत थे।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: