कैसे बनें छोटे भाई- बहनों के लिए रोल मॉडल?

0
443

नई दिल्ली (ईएमएस)। छोटे भाई-बहनों का होना अपने अपन में ही जिम्मेदारियां बढ़ाने जैसा है। क्योंकि आप जैसा उनसे व्यवहार करेंगे, वह वैसा व्यवहार सीखेंगे। ऐसे में आपको अपनी हर अच्छी-बुरी आदत का ध्यान रखना चाहिए। दरअसल, छोटे बच्चे अपने बड़े भाई-बहन को ही फॉलो करते हैं और वे उनके लिए रोल मॉडल होते हैं। इसलिए उनके सामने गाली-गलौज या खराब भाषा का इस्तेमाल कतई न करें। साथ ही प्लीज, सॉरी और थैंक यू जैसे शब्द बातचीत में इस्तेमाल करने की आदत डालें। यदि आपके छोटे भाई-बहन आसपास हों तो किसी दोस्त वगैरह से झगड़ा न करें। ऐसा होने पर वे झगड़ना सीखेंगे। उनके साथ गेम खेलें और समय बिताएं। उन्हें इस बात का अहसास करवाएं कि वे आपके जीवन का अहम हिस्सा हैं और उनका कॉन्फिडेंस बढ़ाएं। कोई जरूरी काम करते समय उनकी किसी हरकत से आपको परेशानी हो रही है, तो पहले उनसे आराम से मना करें। उन पर चिल्लाने के बजाय उन्हें किसी और काम में उलझा दें। यदि आप घर से बाहर हैं, हमेशा तो अपने भाई-बहनों के टच में रहें। यह बात सच है कि आपके पैरंट्स से ज्यादा आपके भाई-बहन आपको मिस करते हैं। ज्यादा शिकायत करने वाले न बनें। उनका दोस्त बनने की कोशिश करें और पैरंट्स की तरह उनके लिए प्रोटेक्टिव रहें।