सतलुज-यमुना लिंक नहर मुद्दे पर हरियाणा-पंजाब के बीच मिल बैठकर हल निकलने की उम्मीद – अमरिंदर

0
104

चंडीगढ़ (ईएमएस)। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा है कि सतलुज यमुना लिंक नहर(एसवाईएल)मुद्दे पर दोनों राज्यों हरियाणा तथा पंजाब के बीच मिल बैठकर हल निकाले जाने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि अधिक पानी होने पर उन्हें इसे हरियाणा को देने में कोई आपत्ति नहीं है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि दोनों राज्य सुप्रीम कोर्ट के दिशा निर्देशों के अनुसार सतलुज यमुना लिंक नहर(एसवाईएल)मुद्दे पर 4 माह के भीतर निर्णय लेने के लिए कटिबद्ध हैं।
ज्ञात रहे कि सतलुज-यमुना लिंक नहर मामले में 3 सितम्बर को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई थी। इस दौरान अटॉर्नी जनरल ने सुप्रीम कोर्ट से कहा था कि इस मामले में आपके पिछले आदेश के तहत मीटिंग हुई है लेकिन नतीजा निकलने में कुछ और समय लगेगा। अब सुप्रीम कोर्ट में इस मामले में 4 महीने बाद सुनवाई होगी। बता दें कि दोनों राज्यों (हरियाणा-पंजाब) की कमेटियों के साथ केंद्र सरकार ने दो बार बातचीत की मगर मसला हल नहीं हुआ। दोनों राज्य अपने स्टैंड पर कायम रहे।
सुप्रीम कोर्ट ने 15 जनवरी, 2002 को डिक्री दी थी मगर उसकी पालना नहीं हुई। सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले को अंतिम बार 11 जुलाई, 2017 को सुना था। कई आदेश अदालत ने पारित किए थे ताकि पार्टियां स्वीकार्य सौहार्दपूर्ण समझौता हो सके और जिसे अमल में लाया जा सके।