ग्रीन टी नहीं, ग्रीन कॉफी पीजिए और वजन घटाइए

0
3

लंदन (ईएमएस)। अगर आप दिन में एक कप से ज्यादा कॉफी पीते हैं, तो अधिक मात्रा में कैफीन का सेवन आपकी सेहत के लिए खतरनाक हो सकता है। अब ग्रीन काफी के रूप में इसका विकल्प बाजार में आ गया है। अगर आप ग्रीन कॉफी का सेवन करते हैं, तो आप स्वस्थ रहेंगे। ग्रीन कॉफी को अधिक मात्रा में पीने से आपकी सेहत पर कोई असर नहीं पड़ेगा, क्योंकि इसमें कैफीन की मात्रा न के बराबर होती है। ग्रीन कॉफी बीन्स में क्रोनोलॉजिकल ऐसिड होता है। इस तरह की कॉफी का सेवन करने से आपका मेटाबॉलिज्म सही रहता है, जिससे शरीर में पॉजिटिव ऊर्जा बनी रहती है। इससे आप जो भी काम करते हैं, उसमें आपका मन अच्छी तरह से लगता है। ग्रीन कॉफी बीन्स में विटमिन्स और मिनरल्स भरपूर मात्रा में पाया जाता है। यह हमारे शरीर में पोषक तत्वों के स्तर को बनाए रखने में मदद करता है। इससे आपका वजन नियंत्रण में रहता है। आप इस बात को इस तरह से ले सकते हैं कि ग्रीन कॉफी का सेवन करने से आप अपने वजन को बढ़ने से रोक सकते हैं।
ग्रीन कॉफी बीन्स ऐंटीऑक्सिडेंट्स से समृद्ध होती है और शरीर में आने वाले हर हानिकारक प्रभाव से यह आपको दूर व स्वस्थ रखता है। ग्रीन कॉफी के बीन्स 100 प्रतिशत भुने हुए और बेहद हेल्दी होते हैं। अगर आप ग्रीन कॉफी का ज्यादा सेवन करते हैं तो आप शुगर की मात्रा को कम कर सकते हैं और वजन भी नियंत्रण में रहता है। कॉफी आपके रक्तचाप को नियंत्रित करती है। उच्च रक्तचाप होने से हार्ट अटैक, क्रॉनिक किडनी फेल्योर जैसी समस्याओं हो सकती हैं जिसे ग्रीन कॉफी रोकती है। साथ ही यह ब्लड में प्लेटलेट्स बनाने में मदद करती है। इससे कोलेस्ट्रॉल नहीं बढ़ता और ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है। अधिकतर कॉफी में 7-9 प्रतिशत की मात्रा में कैफीन पाई जाती है, जो कि सेहत के लिए हानिकारक है। पर ग्रीन कॉफी में कैफीन की मात्रा न के बराबर होती है। इसका सेवन आप अधिक मात्रा में भी कर सकते हैं और इसी पीने के बाद आप चौबीसो घंटे चुस्त एवं स्वस्थ रहते हैं।