जनरल एक बार फिर बने संकटमोचक

0
22

गाजियाबाद (करंट क्राइम)। लोकसभा सांसद व केन्द्रीय विदेश राज्यमंत्री जनरल वीके सिंह को संकटमोचक कहा जाता है। वह विदेश में फंसे भारतीयों को कई बार सकुशल बचाकर ला चुके हैं। एक बार फिर जनरल ने कविनगर के एक परिवार की खुशियां वापस लौटार्इं और विदेश में अपहृत हुए कारोबारी को सकुशल घर पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई। जनरल के करीबी कहे जाने वाले शिवम गहलौत ने इस पूरे मामले को सोशल मीडिया पर भी शेयर किया। 26 अगस्त को कविनगर में रहने वाले सुनील साहनी व उनके दो बच्चों का अफ्रीका में अपहरण हो गया। उनकी पत्नी ने भारत में रह रहे परिवार से सम्पर्क कर मदद मांगी। पीड़ित परिवार के सदस्यों ने शिवम गहलौत से सपंर्क कर मदद मांगी। रात में ही शिवम गहलौत ने जनरल वीके सिंह से संपर्क कर उन्हें पूरी बात बताई। जनरल ने तत्काल ही इस मामले में दूतावास के अधिकारियों से संपर्क किया और दूतावास के अधिकारियों को पीड़ित व्यक्ति की पत्नी से संपर्क कर उसकी मदद के लिये कहा। जनरल के फोन का असर यह रहा कि दो घंटे के भीतर ही अफ्रीका की पुलिस ने अपहृत व्यक्ति व उसके दोनों बच्चों को अपहरणकर्ताओं की पकड़ से सकुशल निकाल लिया और भारतीयों को सुरक्षित उनके घर भिजवाया। पीड़ित परिवार ने जनरल की जमकर तारीफ की। सकुशल वापस आने पर सुशील साहनी ने जनरल को पत्र लिखकर उनकी जमकर तारीफ की। साहनी ने अपने पत्र में लिखा कि जिस तरह से जनरल ने एक्शन लेकर हमारी मदद की उसके लिये हम उनके जीवन भर आभारी रहेंगे। दूतावास के अधिकारियों ने भी तभी सुनी जब जनरल का फोन आया और उन्होंने निर्देश दिये। उन्होंने इसके साथ-साथ शिवम गहलौत की भी प्रशंसा की है कि उन्होंने इस मामले में हमारे कष्ट को समझा और तत्काल एक्शन लेते हुए केन्द्रीय विदेश राज्यमंत्री जनरल वीके सिंह तक हमारी पीड़ा को पहुंचाया।
साहनी परिवार ने बोला थैंक्यू जनरल साहब
विदेश में जब परिवार एक मुसीबत में फंस गया और वहां कोई मदद की उम्मीद नहीं थी तब जनरल वीके सिंह ने इस परिवार के लिए वो किया जिसे वह कभी नहीं भूल पाएंगे। अफ्रीका में अपहरण कर्ताओं के शिकंजे से सकुशल बाहर आने के बाद साहनी परिवार के मुंह से यही शब्द निकले कि थैंक्यू जनरल साहब। परिवार ने पत्र लिखकर भी शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि देश में यदि ऐसे मंत्री मौजूद हैं तो फिर हर भारतीय पूरे विश्व में खुद को सुरक्षित महसूस कर सकता है। परिवार ने शिवम गहलौत का भी शुक्रिया अदा किया है।