फ्रोजन फल और सब्जियों में भरपूर विटामिन वैज्ञानिकों ने शोध के बाद किया दावा

0
82

नई दिल्ली (ईएमएस)। एक हालिया अध्ययन के मुताबिक फ्रोजन फल और सब्जियां किसी भी मायने में ताजे फल और सब्जियों से कम नहीं हैं। फ्रोजन सब्जियों का आराम से इस्तेमाल कर सकते हैं और बिना मौसम के भी अपने पसंदीदा फलों का लुत्फ उठा सकते हैं। वो भी भरपूर पोषक तत्वों के साथ। अध्ययन में खुलासा हुआ है कि फ्रोजन फल और सब्जियों में भरपूर विटामिन होते हैं। कई बार ताजा से अधिक पोषक तत्व इनमें होते हैं। क्यूलिनरी साइंटिस्ट और अध्ययन के लेखक अली बौजरी का कहना है कि हर मौसम में फल सब्जियां खाई जा सकें इसके उपाय के रूप में लोगों ने खाने को संग्रहित करने का तरीका अपनाया। इसी में फ्रीजिंग सबसे ज्यादा अपनाया जाने विकल्प बना, क्योंकि इसमें पोषक तत्व बरकरार रहते हैं। जब आप किसी क्षेत्र विशेष में रहने की वजह से या फिर मौसम की वजह से कोई सब्जी या फल नहीं खा पाते, तो फ्रोजन फल को बिना किसी डर के खा सकते हैं। ताजी फल-सब्जियों का यह अच्छा विकल्प है। नॉर्थ केरोलीना स्टेट यूनिवर्सिटी के प्लांट फॉर ह्यूमन हेल्थ इंस्टीट्यूट के निदेशक मैरी एन लीला का कहना है कि विटामिन के संरक्षण के अलावा, फ्रीजिंग प्रक्रिया पौधों के उन लाभकारी यौगिकों को संरक्षित करने का भी सबसे अच्छा तरीका है जो बीमारियों से लड़ने में मदद करते हैं। सब्जियों को भी व्यावसायिक रूप से फ्रीज करने के लिए उनके पकने पर ही लिया जाता है। लेकिन फलों से अलग सब्जियों को फ्रीजिंग से पहले 90 से 95 डिग्री फारेनहाइट के तापमान पर उबाला जाता है। इस प्रक्रिया में सब्जियों का स्वाद और रंग बदलने वाले और धब्बे पड़ने वाले एंजाइम खत्म हो जाते हैं। इस प्रक्रिया को ब्लीचिंग कहते हैं, जिसमें सब्जियों का गहरा हरा रंग स्टोरेज के बाद कुछ हल्का हो जाता है। इससे सब्जियां ज्यादा मुलायम हो जाती हैं। हालांकि, इस प्रक्रिया में सब्जियों का 50 प्रतिशत विटामिन सी नष्ट हो जाता है, क्योंकि यह गर्म तापमान के प्रति संवेदनशील होता है। इसके बावजूद इनमें पर्याप्त पोषक तत्व रहते हैं। यूएस डिपार्टमेंट ऑफ एग्रीकल्चर के प्लांट साइकोलॉजिस्ट एंड नेशनल प्रोग्राम लीडर जीन लेस्टर का कहना है कि फ्रोजन फलों को व्यावसायिक रूप से तब लिया जाता है, जब वह पकने के चरम पर होते हैं। इन्हें नाइट्रोजन के वातावरण में पैकेजिंग के साथ रखा जाता है। नाइट्रोजन फल और सब्जियों को उनके पोषक तत्वों के संरक्षण में मदद करती है। बता दें कि स्वस्थ रहने के लिए ज्यादा फल-सब्जियां के सेवन की सलाह दी जाती है, लेकिन, कुछ फल और सब्जियां सिर्फ खास मौसम में ही मिलती हैं। ऐसे में फ्रोजन फल-सब्जियों का विकल्प होता है। इनके सेवन को लेकर मन में संशय रहता है कि क्या यह ताजे फल-सब्जियों जितने सेहतमंद होंगी। इसी चिंता में कुछ लोग फ्रोजन फलों का इस्तेमाल नहीं करते। मगर अब डरने की कोई बात नहीं है।