तेलंगाना की चुनावी अटकलें

0
386

देश में इस समय लोकसभा और विधानसभा के चुनाव एक साथ कराए जाने की चर्चाएं आम हो चली हैं। ऐसे में तेलंगाना से खबर आ रही है कि सत्ताधारी पार्टी टीआरएस ने एक बड़ी रैली का अयोजन कर सीधा संदेश दे दिया है कि राज्य में 6 माह पहले चुनाव कराए जा सकते हैं। मुख्यमंत्री केसीआर के भाषण से भी अटकलों के बाजार को गर्म किया जा रहा है। इससे चर्चा यह भी है कि जब तेलंगाना में छह माह पहले विधानसभा भंग कर चुनाव कराए जा सकते हैं तो फिर देश के अन्य राज्यों में जहां कि कार्यकाल ऐसे ही 6 से 8 माह का शेष है उन्हें लोकसभा चुनाव के साथ क्यों नहीं कराया जा सकता है। यदि यह प्रक्रिया अपनाई जाती है तो जिन राज्यों में अभी 2 से 4 माह के अंतराल में चुनाव होने हैं उन्हें भी इन्हीं के साथ संपन्न कराने की प्रक्रिया की जा सकती है और इस प्रकार कम से कम 12 से 15 राज्यों के विधानसभा चुनाव लोकसभा चुनाव के साथ संपन्न कराए जा सकते हैं। बहरहाल ये सब कयास हैं, जबकि निर्वाचन आयोग ऐसे किसी प्रयोग से साफ इंकार कर चुका है।