नजरबंदी में बीतेगा आम्रपाली के तीनो निदेशकों का दशहरा, 15 दिन बढ़ी नजरबंदी

0
35

नोएडा (ईएमएस)। खरीददारों से धोखाधड़ी के आरोप में सुप्रीम कोर्ट की कार्रवाई का सामना कर रहे आम्रपाली के मुख्य प्रबंध निदेशक (सीएमडी) अनिल शर्मा समेत तीनों निदेशकों को दशहरा इस बार पुलिस की नजरबंदी में मनाना पड़ेगा। सुप्रीम कोर्ट ने उनकी नजरबंदी की अवधि 15 दिन बढ़ा दी है।
उन्हें सेक्टर-62 के पार्क एसेंट होटल में पुलिस की निगरानी में दिन गुजारने होंगे। नजरबंदी के दौरान सीएमडी अनिल शर्मा, निदेशक शिवप्रिया और अजय कुमार अपने ग्रुप की 46 कंपनियों के दस्तावेज़ों की लिस्ट तैयार करके फरेंसिक ऑडिटर्स को सौंपेंगे। सीओ- 2 राजीव कुमार सिंह ने बताया कि फिलहाल तीनों निदेशक दिल्ली में हैं और शुक्रवार सुबह नोएडा पहुंचेंगे। उसके बाद से उनकी नजरबंदी शुरू हो जाएगी।
उनकी सुरक्षा और निगरानी के लिए योजना तैयार कर ली गई है। इस काम में करीब 70 पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगाई गई है। ये पुलिसकर्मी दिन-रात अलग-अलग शिफ्टों में ड्यूटी पर तैनात रहेंगे। एसपी सिटी सुधा सिंह ने बताया कि बुधवार देर रात दो बजे सेक्टर-62 और 76 के दफ्तर में आम्रपाली के प्रॉजेक्ट से जुड़े कागज खंगाले गए। इस दौरान बिल्डर के दफ्तरों और गोदामों में रखे गए कागजों को कट्टों में भर दिया गया। नोएडा में सर्च के बाद ग्रेटर नोएडा पुलिस तीनों निदेशकों को लेकर रवाना हो गई। वहां पर भी बिसरख और दूसरी साइटों पर बने दफ्तरों से कागजातों के बंडल भरकर दिल्ली भिजवाए गए। सेक्टर 62 पार्क असेंट होटल के मैनेजमेंट ने बताया कि आम्रपाली की ओर से तीनों लोगों की 15 दिनों के लिए तीन कमरों की बुकिंग करवाई गई है। इस दौरान अनिल शर्मा के बाउंसर और स्टाफर कहां रहेंगे, इस बारे में कुछ भी साफ नहीं है। ऐसे में नजरबंदी के दौरान सीएमडी अनिल शर्मा को अपने वीआईपी स्टेटस से कुछ समय के लिए दूर रहना पड़ सकता है। वहीं, निगरानी के लिए ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मी रिसेप्शन और गेट पर रहकर अपनी ड्यूटी को अंजाम देंगे।