Current Crime
देश

व्हाट्सऐप में सेंध, फोन में खुद-व-खुद इंस्टॉल हो रहा जासूसी सॉफ्टवेयर

नई दिल्ली (ईएमएस)। विश्व की सबसे बड़ी सोशल मीडिया कंपनी फेसबुक ने स्वीकार किया है कि उसकी इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप व्हाट्सऐप में एक सुरक्षा चूक के चलते लोगों के मोबाइल फोन में जासूसी सॉफ्टवेयर इंस्टॉल हो रहा है। एक रिपोर्ट के मुताबिक ये सॉफ्टवेयर एक इसराइली कंपनी ने विकसित किया है। इस जासूसी सॉफ्टवेयर को व्हाट्सऐप कॉल के जरिए लोगों के फोन में इंस्टॉल किया है। यदि कोई यूजर कॉल का जबाव नहीं देता है तब भी उसके फोन में ये सॉफ्टवेयर इंस्टॉल किया जा सकता है। कनाडा के शोधकर्ताओं के मुताबिक इस जासूसी सॉफ्टवेयर से मानवाधिकार कार्यकर्ताओं और अधिवक्ताओं को निशाना बनाया है। फेसबुक के इंजीनियर इस सुरक्षा चूक को ठीक करने में रविवार तक जुटे थे। फेसबुक ने अपने ग्राहकों से कहा कि वो नए वर्जन को अपडेट कर लें अभी ये पता नहीं है कि कितने लोगों को इस साइबर हमले का निशाना बनाया है। हालांकि इस हमले में बेहद चुनिंदा लोगों को ही निशाना बनाया है। दुनियाभर में १५० करोड़ से अधिक लोग व्हाट्सऐप इस्तेमाल करते हैं।
– आप क्या करें
अब सवाल यह है कि यदि आपके फोन में भी जासूसी वाला सॉफ्टवेयर इंस्टॉल हो गया है तो आप क्या करना चाहिए। तो पहला काम यह है कि अपने व्हाट्सऐप ऐप को फटाफट अपडेट करें। इसके बाद अपने फोन के डाउनलोड फोल्डर में जाएं और देखें कि ऐसी कोई फाइल डाउनलोड हुई है क्या जिसे आपने डाउनलोड किया ही नहीं है। यदि ऐसी कोई फाइल मिलती है तो उसे तुरंत डिलीट करें और संभव हो तो फोन को एक बार फैक्ट्री रीसेट कर दें।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: