Current Crime
देश

Cyclonic storm Gaja can knock Tamil Nadu by this evening Winds can run at speeds of 100 km / h – Vacation in school colleges, deployed 30,500 rescuers

नई दिल्ली (ईएमएस)। चक्रवाती तूफान ‘गाजा’ आज शाम तक तमिलनाडु के कुड्डलूर तथा पम्बान के समुद्र तट पर दस्तक दे सकता है। चक्रवाती तूफान से तमिलनाडु के उत्तरी और दक्षिणी भाग में भारी बारिश होने की आशंका है। मौसम कार्यालय ने बताया कि ‘‘गाजा’ गुरूवार शाम या रात को पम्बान तथा कुड्डलूर के बीच तटीय क्षेत्र तक पहुंच सकता है।

राहत और बचाव की तैयारियां पूरी
इस दौरान 100 किलोमीटर प्रति घंटे तक की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं। तमिलनाडु सरकार ने राहत और बचाव की व्यापक तैयारियां की हैं। उसने 30,500 बचावकर्मियों को अलर्ट पर रखा है। तंजौर, तिरुवरुर, पुडुकोट्टई, नागपट्टिनम, कुड्डलूर और रामनाथपुरम के कलेक्टरों ने गुरूवार को स्कूलों और कॉलेजों की छुट्टी घोषित कर दी है। चक्रवाती तूफान के मद्देनजर पुडुचेरी और कराईकल क्षेत्रों में गुरूवार को सभी शिक्षण संस्थान बंद रहेंगे।

बांधों, झीलों, नदियों पर रखी जा रही नजर
केद्रीय जल आयोग ने बांधों पर लगातार नजर रखने की सलाह दी है और इस पृष्ठभूमि में तमिलनाडु के राजस्व मंत्री आर बी उदयकुमार ने संवाददाताओं से कहा कि बांध, झीलें और नदियों पर लगातार नजर रखी जा रही है। आयोग ने मानक परिचालन प्रक्रिया के अनुसार कार्रवाई की सलाह दी थी, क्योंकि तटबंध वाले इलाकों में भारी बारिश बांधों को 24 घंटे से भी कम समय में भर सकती है। सरकार ने तेल विपणन कंपनियों से भी बातचीत की है और उन्हें ईंधन का पर्याप्त भंडार रखने को कहा गया है। वहीं भारतीय नौसेना को भी अलर्ट कर दिया गया है। नौसेना के मुताबिक दो भारतीय नौसैनिक जहाज रणवीर और खंजर अतिरिक्त गोताखोर, डॉक्टर, हवा वाली रबर की नाव, हेलीकॉप्टर और राहत सामग्री के साथ तैयार है।

भारतीय नौसेना सतर्क
भारतीय नौसेना को दक्षिण तमिलनाडु और पुडुचेरी के तटों की ओर बढ़ रहे चक्रवाती तूफान गाजा के मद्देनजर बुधवार को ही हाई अलर्ट जारी कर दिया गया था। नौसेना अफसरों ने बताया पूर्वी नौसेना कमान (ईएनसी) ने आवश्यक मानवीय सहायता मुहैया कराने के लिए उच्च स्तरीय तैयारी की है। नौसेना के एक अधिकारी ने बताया कि दो भारतीय नौसैनिक जहाज रणवीर और खंजर मानवीय सहायता और संकट राहत के लिए सबसे अधिक प्रभावित क्षेत्रों में आगे बढ़ने के लिए खड़े हैं। उन्होंने बताया इन जहाजों में अतिरिक्त गोताखोर, डॉक्टर, हवा वाली रबर की नाव, हैलीकॉप्टर और बड़ी मात्रा में राहत सामग्री एकत्र है।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: