Current Crime
उत्तर प्रदेश ग़ाजियाबाद दिल्ली एन.सी.आर देश विचार

उठते सवालों का करंट (6 मई)

  • क्यों कहा कहने वाले ने कि सपा महानगर अध्यक्ष राहुल चौधरी ने शराब बिक्री के मुद्दे को उठाकर बना तो दिया है जबरदस्त माहौल? मगर इस मुद्दे की आड़ में वह क्या कर रहे हैं लॉक डाउन में गरीबों की सेवा? इस पर कई विरोधी चेहरे जानना चाहते हैं सब कुछ ओवरआल? क्यों कहा कहने वाले ने कि वीरेंद्र यादव की तरह नहीं आते हैं राहुल भैया के जनसेवा वाले फोटो?
  • क्यों कहा कहने वाले ने कि यूं तो शराब के मुद्दों पर बोलकर बीजेपी के कई जनप्रतिनिधियों ने दिखाया दम? क्यों कहा कहने वाले ने कि मगर जो आईडिया दिया था मेयर आशा शर्मा ने? उस आईडिया में ही था दम? मेयर ने कहा था एक व्यक्ति को दी जाए एक बोतल? विभाग ने अगले ही दिन ठेके वालों को कर दिया प्रति व्यक्ति एक बोतल बेचने का फरमान जारी?
  • क्यों कहा कहने वाले ने कि भले ही लॉक डाउन लग गया हो? मगर सोशल मीडिया से लेकर मीडिया तक हमें मिलता है लोनी क्षेत्र से पूरा एंटरटेनमेंट? क्यों कहा कहने वाले ने कि अगर वहां पर दो बड़े नेता ना लगाएं एक दूसरे पर आरोपों की बौछार? कसम से इस कदर बोर होते हैं हम? और दिन हो जाता है बेकार? हमारा दोनों से यही निवेदन है कि इसी तरह से हमें एंटरटेनमेंट करते रहें दोनों भगवादार?
  • क्यों कहा कहने वाले ने कि मानना पड़ेगा भगवा आरडी का दिल? उन्होंने लॉक डाउन में जबरदस्त समाज सेवा करने वाले मुहिम में कर लिया कांग्रेस जिला अध्यक्ष विजेंद्र यादव को भी शामिल? क्यों कहा कहने वाले ने कि हमें हैं इस बात का भी इंतजार? क्या उन्होंने भगवा कमांडर को भी प्रतिष्ठित पत्र देकर सम्मानित किया है एक बार? क्यों कहा कहने वाले ने कि अगर अध्यक्ष का किया है सम्मान? तो वह क्यों है खामोश? उनसे तो ज्यादा दिखाई दिया बिजेंदर यादव में जोश?
  • क्यों कहा कहने वाले ने कि नाम चमकाना कोई जनप्रतिनिधि के प्रतिनिधि राजपूत से सीखे? क्यों कहा कहने वाले ने कि रेड और येलो कार्ड वाली मुहिम के संदेश में जिस तरह मिस्टर राजपूत ने लिखवाया है अपना नाम? उसके नीचे दिया है जनप्रतिनिधि वाले तमगे को स्थान? उसे देखकर लग रहा है कि वह मंदे जमाने में भी दिखाने में माहिर हैं अपनी पहचान?
  • क्यों कहा कहने वाले ने कि वह भले ही बताएं उनको अपना लक्ष्मण? मगर हमें पता है दोनों के बीच में खींची हुई है एक बारीक रेखा? क्यों कहा कहने वाले ने कि पहले तो वह पद से दूर हो गए? फिर वीडियो में भी उनका फोटो किसी ने नहीं देखा? क्यों कहा कहने वाले ने कि रिश्तो के धागे में पड़ गई है गांठ ?अब भले ही वह दिखाएं अपने संबंधों के कितना ही मजबूत वाले ठाठ और बाट?
  • क्यों कहा कहने वाले ने कि तिकड़ी के तीसरे वीर एवं भाजपा के पूर्व उपाध्यक्ष अमित त्यागी ने दिखा दिया है बड़ा दिल? उन्होंने सरकार के आदेशों के खिलाफ ही खोल दिया है मोर्चा? क्यों कहा कहने वाले ने कि शराबबंदी को लेकर जिस तरह त्यागी जी ने दिए हैं बयान? वह स्थापित करेंगे आने वाले समय में उनकी अलग से पहचान? सत्ता में रहते हुए सत्ता के खिलाफ कौन उठाता है भला तीर कमान?
  • क्यों कहा कहने वाले ने कि मान से प्रिय जब एक युवा नेता ने किया व्हाट्सएप पर ग्रुप तैयार? हमने देखा उस ग्रुप से कोई पूरे गौरव से अपनी टीम के साथ हो गया एक झटके में बाहर? क्यों कहा कहने वाले ने कि शायद ग्रुप बनाने वाले को नहीं था इस बात का अंदाज? जिसको शामिल किया था उसने ग्रुप में वह है पूरे मान से किसी से नाराज?क्यों कहा कहने वाले ने कि कहाना वाले ग्राम में त्यागी जी की टीआरपी को देखकर दूसरे त्यागी जी के दिल पर चल रही है छूरियां ? क्यों कहा कहने वाले ने कि दूसरे त्यागी जी के जिगर का टुकड़ा है दूसरे त्यागी जी की टीआरपी को देखकर कुछ ज्यादा ही नाराज? दे रहा है जगह-जगह संदेश कि भगवा कमांडर दे रहे हैं उस व्यक्ति को ज्यादा तवज्जो? जिसका रहा है साइकिल चलाने का इतिहास?

    क्यों कहा कहने वाले ने कि भगवा बापू नगर वाली कमिश्नर का कमिश्नर अभी से बना रहा है राशन सामग्री बांट कर अपने चुनाव लड़ने का माहौल? क्यों कहा कहने वाले ने कि वह दे रहा है संदेश कि जो यहां से लड़ा था पहले चुनाव? उसका घर है कहीं और? क्यों कहा कहने वाले ने कि इस कमिश्नरी का कमिश्नर अभी से मजबूत करके चल रहा है चुनाव वाली डोर? क्यों कहा कहने वाले ने कि वैसे इन कमिश्नर का घर भी तो है कहीं और?

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: