Current Crime
उत्तर प्रदेश ग़ाजियाबाद दिल्ली एन.सी.आर

कांग्रेस पार्षद मनोज चौधरी का निगम अधिकारियों पर गंभीर आरोप

गाजियाबाद। कांग्रेस पार्षद मनोज चौधरी ने नगर आयुक्त दिनेश चंद्र को एक ज्ञापन सौंपकर शिकायत की है कि बिना बोर्ड अनुमति के नगर निगम अंदरखाने नगरीय क्षेत्र में सैकड़ों पोल लगवाने जा रहा है। मनोज चौधरी ने कहा है कि मेरे विश्वसनीय सूत्रों से पता चला की नगर निगम के अधिकारी एक कंपनी को गाजियाबाद में सामाजिक जागरूकता पैदा करने के लिए उसके लिए 580 पोल गाजियाबाद के विभिन्न स्थानों पर लगाने की अनुमति देने की तैयारी मे हैं। नगर निगम बोर्ड की बैठक में यह प्रस्ताव पास हुआ था की गाजियाबाद को यूनीपोल से मुक्ति दिलानी है। इस कदम में गाजियाबाद की पूर्व जिलाधिकारी रितु माहेश्वरी व नगर निगम प्रशासन ने भी बड़े स्तर पर अभियान चलाया था। काफी पोल हापुड चुंगी से लेकर वसुंधरा तक काटे गए थे। मुख्यमंत्री योगी गाजियाबाद जिले को एक सुंदर शहर बनाना चाहते हैं उसी दिशा में गाजियाबाद. को यूनीपोल से मुक्ति दिलाने के लिए प्रयासरत हैं। मेरा यह कहना है अगर हमें एक ही कंपनी को 580 पोल लगाने की अनुमति पिछले दरवाजे से देनी हैं तो फिर छोटी कंपनियों के यूनीपोल क्यों काटे जा रहे हैं फिर उन्हें उन्हें भी राहत दी जाए। कार्यकारिणी की बैठक में यह तय होना चाहिए। समझोते के अनुसार दिशा निर्देश बोर्ड राउंड अबाउट सुंदरीकरण पोल साइनेज स्थापित करने के लिए गाजियाबाद में विभिन्न स्थानों पर अनुमति नहीं दें। इस कंपनी सदरपुर मार्ग, हापुड़ रोड, प्रतापनगर मार्ग , एसएनकेके , डीपीएस राजनगर, मेरठ रोड मेरठ मार्ग , बाँम्बो कॉलोनी रोड , राजनगर एक्सचेंज रोड , हिंडन नदी रोड , महावीर त्यागी और ज्ञानी आरडी मोरटी मेरठ बाई मार्ग, मुरादनगर रोड , मोदीनगर रोड और डाकघर आॅडी और दिल्ली और घंटाघर आरडी से महावीर त्यागी और सिटी फॉरेस्ट रोड राजनगर इतने बड़े स्तर पर इस कंपनी को नगर निगम गाजियाबाद में 580 पोल की देने की बात पता चली है। मेरे सूत्रों के अनुसार अगर यह बात सही है तो यह गलत है । नगर निगम को अनुमति नहीं देनी चाहिए । सीएसआर फंड आईसीआईसी आई बैंक के तहत सह बॉन्डिंग डायरेक्टर बोर्ड राउंड अबाउट ब्यूटिफिकेशन पोल साइनेज ट्रैफिक बूथ लगाने की अनुमति गाजियाबाद के विभिन्न स्थानों पर ना दी जाए। यह गाजियाबाद की जनता के साथ अन्याय होगा नगर आयुक्त से मेरा निवेदन है कि क्षेत्र अगर सही है तो इस कंपनी को इतनी बड़ी मात्रा में और लगाने की अनुमति नहीं दी जाए। मनोज चौधरी ने कहा है कि मैं आशा करता हूं कि नगर आयुक्त इस फाइल को तत्काल निरस्त करने की कृपा करेंगे और भविष्य के लिए नगर निगम में यूनिपोल के लिए एक नीति तय करने का भी काम करेंगे।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: