कांग्रेस संगठन में परिवर्तन शीघ्र

0
51

गाजियाबाद (करंट क्राइम)। मिशन 2019 की तैयारियों में जुटी कांग्रेस पार्टी अब संगठन को धार देने के लिए ठोस कदम उठाने जा रही है। पार्टी शीर्ष नेतृत्व की मंशा है कि पार्टी संगठन 2019 के तहत निर्मित किया जाये और जो संगठन अध्यक्ष पार्टी को मजबूत करने में नाकामयाब साबित हो रहे हैं, उन्हें हटाकर तत्काल ही पदों पर नये नेताओं को जिम्मेदारी सौंपी जाये। शीर्ष नेतृत्व की इस कवायद के बाद अब जनपद गाजियाबाद में भी संगठनात्मक बदलाव होने की प्रबल संभावनाएं कांग्रेसियों की ओर से व्यक्त की जा रहीं हैं।
स्थानीय स्तर पर कांग्रेसियों के बीच चर्चाएं तेज हैं कि शीघ्र ही जनपद स्तर पर बदलाव देखने को मिलेगा। किस संगठन पर गाज गिरेगी, इसके बारे में अभी कुछ स्पष्टीकरण स्थानीय नेताओं की ओर से नहीं मिल रहे हैं लेकिन कांग्रेस की थिंक लॉबी कह रही है कि बदलाव जरूर होगा, या तो जिले पर गाज गिरेगी या फिर महानगर में बदलाव किया जायेगा। फिलहाल ये चर्चाएं हैं और चर्चाओं के बीच कहा जा रहा है कि 25 जुलाई के बाद पार्टी इस पर अपना अंतिम निर्णय ले लेगी।
बता दें कि पार्टी शीर्ष नेतृत्व के पास निरंतर जनपद गाजियाबाद संगठन का रिपोर्ट कार्ड पहुंच रहा है। जिला और महानगर संगठन किस तरह से पार्टी के द्वारा निर्धारित कार्यक्रमों का सफल आयोजन कर रहे हैं । इसका पूरा खाका भी नेतृत्व को भेजा जा चुका है। अब संभावना जताई जा रही है कि पार्टी नेतृत्व संगठन में परिवर्तन करने जा रहा है। अब परिवर्तन 25 जुलाई के बाद होना तय बताया जा रहा है।
मुझे हटा रहे तो
उसे भी हटाओ
कांग्रेस में संगठनात्मक होने वाले बदलाव की चर्चाओं के बीच कहा जा रहा है कि अध्यक्ष पद से जिन्हें हटाया जाना सुनिश्चित हो गया है, वह अध्यक्ष इन दिनों दिल्ली के गलियारों के चक्कर खूब लगा रहे हैं। दिल्ली पहुंचकर उक्त अध्यक्ष अपने आकाओं से सिर्फ इतना ही कह रहे हैं कि जब मुझे हटाया जा रहा है तो उसे भी हटाओ। जब मेरा संगठन कमजोर है तो उसका भी तो कमजोर ही चल रहा है। कांग्रेसी नेताओं का कहना है कि पार्टी नेतृत्व तय कर चुका है कि उन्हें किसे हटाना है और किसकी ताजपोशी करनी है।