Current Crime
अन्य ख़बरें दिल्ली

क्वारंटीन सेंटर जाकर जांच कराने का आदेश रद्द करें गृहमंत्री : दिल्ली सरकार

नई दिल्ली| दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बुधवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से कोरोना पॉजिटिव रोगियों को क्वारंटीन सेंटर जाकर जांच कराने का आदेश रद्द करने की मांग की है। उपराज्यपाल अनिल बैजल द्वारा जारी एक आदेश में सभी कोरोना संक्रमितों के लिए क्वारंटीन सेंटर जाकर जांच करवाना अनिवार्य किया गया है। सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली में लागू नई व्यवस्था की वजह से अफरा-तफरी का माहौल है। मेडिकल और प्रशासनिक सिस्टम पर दबाव बढ़ गया है।

सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली में कोरोना पर दो मॉडल सामने आ रहे हैं। एक अमित शाह जी का मॉडल है, जिसमें हर आदमी को पॉजिटिव पाए जाने पर कोविड-19 केयर सेंटर जाना जरूरी है, चाहे वह कोई भी हो। उसे पॉजिटिव पाए जाने पर तुरंत कोविड-19 सेंटर लेकर जाना पड़ेगा, चाहे उसे बस में ही क्यों न लेकर जाना पड़े। वहीं, दूसरा मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जी का मॉडल है, जिसमें कोई कोरोना पॉजिटिव पाया जाता है, तो मेडिकल की टीम उसके घर जाएगी, उसकी जांच करेगी।

सिसोदिया ने गृहमंत्री से अनुरोध किया है कि वे जल्द से जल्द हस्तक्षेप कर नई व्यवस्था को खत्म कर दिल्ली में पुरानी व्यवस्था को बहाल कराएं, ताकि प्रत्येक व्यक्ति को जांच कराने के लिए क्वारन्टीन सेंटर न जाना पड़े और पुरानी व्यवस्था तहत दिल्ली सरकार की मेडिकल टीम मरीज के घर जाकर जांच करे। टीमें मरीज की हालत के मुताबिक उसे अस्पताल में भर्ती करा सके या फिर उसे घर पर ही रहने के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दे सके।

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली में प्रतिदिन 3 से 4 हजार मामले जुड़ रहे हैं। कल भी दिल्ली में करीब 4 हजार के करीब नए मामले सामने आये थे। मैंने एलजी साहब को एक चिट्ठी लिखी है कि उनके आदेश से दिल्ली में एक नई व्यवस्था लागू की गई है, जिसमे कोरोना पॉजिटिव पाए जाने पर हर मरीज को क्वारन्टीन सेंटर जाना पड़ेगा। उपराज्यपाल उस व्यवस्था को बदलें, उस व्यवस्था की वजह से दिल्ली में अफरा-तफरी मच गई है।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: