बंधन बैंक और गृह फाइनेंस के विलय को ‎मिली मंजूरी

0
109

मुंबई (ईएमएस)। बंधन बैंक और एचडीएफसी की सहायक कंपनी गृह फाइनेंस की विलय योजना को एनसीएलटी ने मंजूरी दे दी है। इससे पहले बाजार सूचकांकों (बीएसई और एनएसई), आरबीआई और नेशनल हाउसिंग बैंक इस विलय योजना को मंजूरी दे चुके हैं। गौरतलब है ‎कि जनवरी में कोलकाता स्थित बंधन बैंक ने शेयर-स्वैप सौदे में ग्रुह फाइनेंस का नियंत्रण संभाल लिया था। गृह फाइनेंस के प्रस्तावित अधिग्रहण के लिए बंधन बैंक को भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग और कंपनी तथा बैंक के शेयरधारकों और लेनदारों की मंजूरी भी लेनी है। सौदे के तहत गृह फाइनेंस का अपने साथ विलय करने के लिए बंधन बैंक को एचडीएफसी को 14.9 फीसदी हिस्सेदारी हस्तांतरित करनी होगी। वहीं सौदे के जरिये बंधन बैंक अपने प्रमोटर की शेयरधारिता 82 से 61 फीसदी तक घटा सकेगा। इसके अलावा विलय योजना से गृह फाइनेंस में शेयरधारिता के जरिये बंधन बैंक में एचडीएफसी की 15 फीसदी के करीब हिस्सेदारी होगी। इस समय एचडीएफसी की गृह फाइनेंस में 58 फीसदी हिस्सेदारी है। गौरतलब है कि पिछले साल सितंबर में आरबीआई ने शेयरधारिता नियमों को पूरा न कर पाने के कारण बंधक बैंक की नई शाखाएं शाखाएं खोलने और इसके मुख्य कार्यकारी अधिकारी के वेतन भुगतान पर रोक लगा दी थी।