चुनाव आयोग से मिल भाजपा ने की बंगाल की कुछ सीटों पर फिर से मतदान की मांग

0
31

नई दिल्ली (ईएमएस)। पश्चिम बंगाल में लोकसभा चुनाव के दौरान हुई हिंसा के कारण कुछ इलाकों में फिर चुनाव कराने की मांग करते हुए बीजेपी के प्रतिनिधिमंडल ने चुनाव आयोग से मुलाकात की। चुनाव आयोग से मुलाकात के बाद केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता पीयूष गोयल ने कहा कि चुनाव आयोग से मुलाकात कर बंगाल में चुनाव के दौरान हुई हिंसा का मुद्दा उठाया और कुछ इलाकों में दोबारा चुनाव कराने की मांग की। पीयूष गोयल ने बंगाल में काउंटिंग के दौरान हिंसा भड़कने की आशंका जाहिर की। पीयूष गोयल ने कहा, हम चुनाव आयोग से बंगाल, ओडिशा, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और कर्नाटक में काउंटिंग के दौरान विशेष पर्यवेक्षक की नियुक्ति करने की मांग की है, जिस काउंटिंग की प्रक्रिया को निष्पक्ष तौर पर संपन्न कराया जा सके। उन्होंने मतगणना के दौरान बंगाल में हिंसा भड़कने की आशंका जाहिर करते हुए कहा, बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और उनकी पार्टी तृणमूल कांग्रेस की बौखलाहट देखकर हमारे द्वारा आयोग के सामने चिंता जाहिर की है कि काउंटिंग के बाद पश्चिम बंगाल में राजनीतिक हिंसा फिर से भड़क सकती है।’
पीयूष गोयल ने कहा, हमारे द्वारा मांग की है कि काउंटिंग और जबतक आचार संहिता लागू है, तबतक वहां केंद्रीय बलों की तैनाती की जाए जिससे लोगों को आश्वस्त किया जा सके कि काउंटिंग के बाद यहां किसी तरह कि हिंसा नहीं होगी। आयोग से यह भी मांग की है कि पश्चिम बंगाल में हमारे जिन कार्यकर्ताओं पर फर्जी केस दर्ज किए गए हैं, उनको भी खत्म किया जाए।’
बता दें कि लोकसभा चुनाव के दौरान बंगाल में टीएमसी और बीजेपी के बीच बहुत ही तीखे चुनावी हमले हुए। पश्चिम बंगाल में तकरीबन हर चरण में हिंसा देखने को मिली। आखिरी चरण से पहले कोलकाता में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान हिंसा, पत्थरबाजी और आगजनी के बाद चुनाव आयोग ने पूर्व निर्धारित समय से एक दिन पहले ही चुनाव प्रचार खत्म करने का आदेश दिया। चुनाव आयोग का ऐसा निर्णय अभूतपूर्व था। अब तक ऐसा किसी भी राज्य में नहीं हुआ था। यूपी, बिहार के अलावा पश्चिम बंगाल तीसरा ऐसा राज्‍य था जहां सभी 7 चरणों में वोटिंग हुई। 42 लोकसभा सीटों वाले पश्चिम बंगाल में पहले चरण में 2, दूसरे चरण में 3, तीसरे चरण में 5, चौथे चरण में 8, पांचवे चरण में 7, छठे चरण में 8 और सातवें चरण में 9 लोकसभा सीटों पर वोटिंग हुई