Current Crime
उत्तर प्रदेश ग़ाजियाबाद दिल्ली एन.सी.आर

भाजपा कार्यालय प्रभारी की निर्दलीय चुनाव वाली ललकार

क्षेत्र के 6 पार्षदों को निर्दलीय चुनाव लड़ने का चैलेंज
वरिष्ठ संवाददाता (करंट क्राइम)

गाजियाबाद। भाजपा के कार्यालय प्रभारी संजय त्यागी बीते दिनों फेसबुक पर सन्यास वाली बातों को लेकर चर्चा में थे। लेकिन उनके सोशल मीडिया वाले अंदाज के बाद जब उन्होंने नन्दग्राम मंडल के सात वार्डों में से 6 वार्डोें के पार्षदों को निर्दलीय चुनाव लड़ने की चुनौती दी तो सियासी माहौल गरमा गया। क्योंकि संजय त्यागी ने जिन वार्डों में निर्दलीय चुनाव लड़ने की चुनौती दी है उनमें से कई वार्ड ऐसे हैं जहां भाजपा पार्षद हैं।

संजय त्यागी नेअपने खुले पत्र में खुला चैलेंज देते हुए कहा कि नंदग्राम मंडल में 7 वार्ड हैं जिनमें 3 पार्षद भाजपा के दो बसपा के तथा दो कांग्रेस के हैं। राजनीति में कंपटीशन होना अच्छी बात है स्वास्थ्य राजनीति के लिए यह बहुत अति आवश्यक है किंतु वर्तमान राजनीति में राजनीतिक कंपटीशन में ज्यादातर लोग इस बात को भूल जाते हैं। राजनीति में ईर्ष्या द्वेष रखने से काम नहीं चलता, ना फजीर्वाड़े से काम चलता है। मैंने अपने राजनीतिक जीवन में बहुत से ऐसे लोग देखे हैं वह देख रहा हूं उन्हें अपने साथ के लिए एक व्यक्ति भी अपने क्षेत्र मोहल्ले या ब्लॉक से नहीं मिलता राजनीति का पहला नियम ही लोगों का विश्वास अर्जित कर अपने साथ खड़ा करना होता है, ऐसे लोग जानते तो सब कुछ है लेकिन बड़ी ही बेशर्मी से अपने कृत्यों में लगे रहते हैं। अपने ब्लॉक या क्षेत्र से पांच व्यक्ति साथ नहीं होते राजनीति करते हैं। महानगर विधानसभा लोकसभा की ऐसे लोग मानसिक कुंठा से ग्रसित होकर दूसरे व्यक्तियों के बारे में दुष्प्रचार में लगे रहते हैं तथा मुंगेरीलाल के हसीन सपने देखते रहते हैं।

हर व्यक्ति का अपना विवेकाधिकार होता है कि वह आदर्शवादी सिद्धांत वादी राजनीति करें या छल द्वेष सिद्धांत हीन का रास्ता चुने, पिछले कुछ दिनों से देखने में सुनने में हल्का आ रहा है कि कुछ इसी मानसिकता के कुंठित मानसिकता व मुंगेरीलाल के हसीन सपने देखने वाले छपाक रोग से पीड़ित लोग यदा-कदा आर्गनल बोलते रहते हैं, ऐसे लोगों को मेरा हाथ जोड़कर यही निवेदन है जीवन में काम सत्य से चलता है। अगर आपको राजनैतिक जीवन में यह भ्रम हो जाए कि आप बहुत बड़े जनसेवक व राजनेता हो तो आपको जनता के बीच में जाने का निर्णय कर लेना चाहिए अर्थात चुनाव लड़ने का निर्णय कर लेना चाहिए वह भी जहां आप निवास करते हो, सत्य सामने आ जाएगा। वह भ्रम का जाला भी दिमाग से हट जाएगा। रही बात हमारी तो बड़ी ही जिम्मेदारी पूर्वक कहता हूं नंदग्राम मंडल में 7 वार्ड हैं। जैसा कि वार्ड क्रम से ऊपर मैंने उल्लेखित किए हैं।

वार्ड नंबर 13 को छोड़कर इस प्रकार की मानसिकता वाले लोगों को आपके माध्यम से खुली चुनौती देता हूं। बचे हुए 6 वार्डों में से कोई भी एक वार्ड चुन लें वार्ड उनकी पसंद का मेरे सामने निर्दलीय चुनाव लड़ने की चुनौती स्वीकार करें। पार्टी का सिंबल ना तो वह इस्तेमाल करें और ना मैं करूंगा। अगर वह सच्चे हैं, जनसेवक हैं, जनता के बीच में रहते हैं, मजबूत हैं तो मेरी इस चुनौती को स्वीकार करें। निर्दलीय चुनाव लड़ने के बाद जो नतीजे आएंगे यकीन मानिए मुझे भरोसा है ऐसे लोगों को वास्तविकता ज्ञान हो जाएगा और शायद वह सही पथ पर अगर उचित हो सकेंगे। अगर ईश्वर ना करें नतीजे मेरे कथन के अनुसार नहीं रहे तो जिम्मेदारी पूर्वक आपके माध्यम से वादा करता हूं राजनैतिक जीवन को अलविदा कहकर उन लोगों से सार्वजनिक रूप से माफी मांग लूंगा। अत: मैं पुन: कहता हूं कि वह मेरी इस राजनीतिक चुनौती को स्वीकार करें। नंदग्राम मंडल के 6 वार्डों में से एक का चयन करें, अन्यथा इस तरह के राजनीतिक जीवन से बचें।

भाजपा के तीन पार्षद भी संजय त्यागी के एलानिया रडार पर

भाजपा महानगर कार्यालय प्रभारी संजय त्यागी ने कहा कि क्षेत्र के वार्ड 13 को छोड़कर बाकी 6 वार्डों में कोई सा भी एक वार्ड यहां से भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ने के इच्छुक नेता चुन लें और मेरे सामने निर्दलीय चुनाव लड़ने की चुनौती स्वीकार करें। संजय त्यागी ने कहा कि वार्ड 13 से वह इसलिए चुनाव नहीं लड़ेंगे क्योंकि यहां से बसपा के रोहित त्यागी फिलहाल पार्षद हैं और इस वार्ड में संजय त्यागी का इतना मजबूत नेटवर्क नही है। लेकिन जिन वार्डों में संजय त्यागी ने निर्दलीय चुनाव लड़ने के लिए ललकारा है उनमें कांग्रेस, बसपा और भाजपा के पार्षद हैं। वार्ड 6 से कांग्रेस की माया देवी पार्षद हैं, वार्ड 11 से कांग्रेस के विनोद पार्षद हैं, वार्ड 31 में भाजपा की रूबी त्यागी पार्षद हैं, वार्ड 32 से बसपा के दीपक त्यागी पार्षद हैं। वार्ड 39 से भाजपा नेता वीरेन्द्र त्यागी की पत्नी कृष्णा त्यागी पार्षद हैं। वार्ड 50 से भाजपा के संजीव त्यागी पार्षद हैं।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: