Current Crime
ग़ाजियाबाद दिल्ली एन.सी.आर

भाजपा में बाहरी एंट्री पर लगा बैन!

सर्जिकल स्ट्राइक का असर
प्रमुख संवाददाता (करंट क्राइम)
गाजियाबाद। ये खबर भाजपा के उन सक्रिय, निष्ठावान एवं पुराने कार्यकर्ताओं को राहत दे सकती है, जो आजीवन पार्टी की सेवा करते हैं और जब चुनाव का टाइम आता है तो बाहरी नेताओं को पार्टी में शामिल करने एवं चुनाव लड़ाने की कवायद से इनके चेहरे पर मायूसी आ जाती है। मिशन-2017 निकट है और भाजपा की ओर से लगातार बाहरी नेताओं की ज्वाइनिंग ने खासा माहौल बनाया हुआ था। सूत्र बताते हैं कि यूपी मिशन फतह पर निकली भाजपा पार्टी में शामिल हुए कई नेताओं को चुनाव मैदान में उतारने की योजना बना चुकी थी। सूत्रों का कहना है कि फिलहाल जो भाजपा में शामिल हो चुके हैं वो सौभाग्यशाली हैं, लेकिन अब उन बाहरी नेताओं के लिए पार्टी ने अपने दरवाजे बंद कर दिए हैं, जिनके चर्चे रोजाना सुनाई दे रहे थे।
विश्वसनीय सूत्रों का कहना है कि भाजपा में बाहरी नेताओं की एंट्री पर बैन लग गया है। खासतौर पर अब टिकट को लेकर तो कोई एंट्री नहीं की जाएगी। हाल ही में लखनऊ में आयोजित हुई बैठक में बाहरी एंट्री का विषय गंभीरता से उठा। जिसमें काफी नेगिटिव रिपोर्ट पार्टी आलाकमान तक गई। ये तथ्य सामने आया कि पार्टी में अगर ज्यादा बाहरी एंट्रियां होंगी तो अंदर वाले नाराज हो जाएंगे। बाहरी एंट्री पर रोक का एक कारण सर्जिकल स्ट्राइक का भी माना जा रहा है। चर्चा है कि एलओसी के पार हुए इस आॅपरेशन से भाजपा का ग्राफ काफी बढ़ा है। जिस वजह से अब पार्टी अपने स्थानीय नेताओं को चुनाव लड़ाने की स्थिति में नजर आ रही है। हालांकि एक चर्चा यह भी है कि जिन नेताओं की एंट्री पूर्व में हो चुकी है पार्टी उनके बारे में सोचेगी और हो सकता है उन्हें चुनाव मैदान में उतारा जाए।
गौरतलब है कि गाजियाबाद में भी लोनी, साहिबाबाद, मुरादनगर, धौलाना और मोदीनगर ऐसी सीटें थीं, जिन पर अब तक बाहरी उम्मीदवारों को उतारे जाने की चर्चा जोर-शोर से चल रही थी। खासतौर पर मुरादनगर पर तो पूरा गणित ही बिगड़ा नजर आ रहा था। फिलहाल ये खबर उन दावेदारों के लिए राहत देने वाली है जो बाहरी के नाम पर कई दिनों से खौफ खाए हुए थे।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: