Current Crime
दिल्ली दिल्ली एन.सी.आर

लॉकडाउन में भारी बिजली बिल के मुद्दे पर केजरीवाल सरकार को घेरने में जुटी बीजेपी

नई दिल्ली| भारतीय जनता पार्टी ने लॉकडाउन के दौरान दिल्ली में बिजली के भारी बिल आने को लेकर केजरीवाल सरकार की घेराबंदी शुरू की है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष आदेश कुमार गुप्ता ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को पत्र लिखकर मिलने का समय मांगा है। उन्होंने कहा है कि बिजली बिलों के खेल पर पार्टी का प्रतिनिधिमंडल मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से भेंट कर चर्चा करना चाहता है।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश कुमार गुप्ता ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को लिखे पत्र में कहा है कि पिछले काफी समय से समाज के सभी वर्गों, उद्यमियों, व्यापारियों, नागरिक संगठनों के अलावा स्कूल और धार्मिक स्थलों के लोग हमें बिजली के बिलों में लगने वाले फिक्स्ड चार्ज, एवरेज बिलिंग और अन्य अधिभारों को लेकर शिकायत कर रहे हैं।

मार्च के प्रारंभ से ही दिल्ली के उद्योग एवं बाजार बंद हैं। मगर फिक्स्ड चार्ज और ऊंचे कामर्शियल रेट व शुल्कों के कारण लोगों को भारी बिल मिल रहे हैं वहीं दूसरी ओर साधारण नागिरकों को लॉकडाउन के चलते घरों में रहने के कारण उनके बिल भी बढ़े। बिल बढ़ने से उनको मिलने वाली सब्सिडी के लाभ भी खत्म हो गए।

प्रदेश अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री केजरीवाल से कहा, “दिल्ली भाजपा प्रतिनिधिमंडल बिजली बिलों से जुड़ीं समस्याओं को लेकर आपसे मिलना चाहता है, कृपया समय दें। लोकतंत्र में सरकार का दायित्व है कि लोगों की समस्याओं पर ध्यान दे। मध्य प्रदेश और हरियाणा सहित विभिन्न राज्यों में लोगों को लॉकडाउन के समय बिजली बिलों में राहत दी गई है।”

बता दें कि इससे पहले भी भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष आदेश कुमार गुप्ता ने इस मुद्दे पर केजरीवाल सरकार की घेराबंदी की थी। उन्होंने केजरीवाल सरकार और बिजली कंपनियों पर 1131 करोड़ रुपये के घोटाले का आरोप लगाया था। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के दौरान सब्सिडी और फिक्स चार्ज के नाम पर दिल्ली सरकार ने बिजली कंपनियों के साथ मिलकर यह घोटाला किया है। लॉकडाउन में 2 लाख छोटी व बड़ी इंडस्ट्रीज बंद होने के बाद भी फिक्स चार्ज व एवरेज बिल के नाम पर भारी भरकम बिल वसूला जा रहा है। दिल्ली में सात लाख से अधिक दुकान व ऑफिस हैं। इन सभी को भी फिक्स चार्ज के नाम पर भारी भरकम बिजली बिल थमा दिया गया है।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: