Current Crime
अन्य ख़बरें उत्तर प्रदेश ग़ाजियाबाद दिल्ली एन.सी.आर

डीएम गाजियाबाद का बड़ा कदम: कोरोना पीड़ित गरीब लोगों का होगा रेमेडीसिविर से ईलाज

गाजियाबाद (करंट क्राइम)। कोरोना पीड़ित लोगों की पीड़ा को डीएम अजय शंकर पाण्डेय ने बेहतर ढंग से समझा है। वह उन लोगों की मदद के लिए आगे आये हैं जो कोरोना पीड़ित हैं और ईलाज के लिए पैसे नही हैं। डीएम के प्रयासों से अब ऐसे लोगों को ईलाज मिल रहा है। कोरोना पीड़ितों के लिए रेमेडीसिविर और टोकिलियूम्ब इंजेक्शन एक कारगर दवा है। यह दवा महंगी है और अक्सर गरीब तबके के लोग इन इंजेक्शनों को नहीं खरीद पाते। डीएम की पहल और आह्वान के बाद औद्योगिक इकाईयां तथा ड्रग व कैमिस्ट एसोसिएशन इस वर्ग की मदद के लिए आगे आये हैं।

जिला प्रशासन ने कोविड से बचाव और ईलाज के लिए नव्या हेल्थ केयर सदीकनगर मेरठ रोड गाजियाबाद को लाईव सेविंग ड्रग्स तथा आवश्यक मेडिकल दवाईयों, रेमेडीसिविर, टोकिलियूम्ब इंजेक्शन जैसी महंगी और कारगर दवाओं का स्टॉक सुरक्षित रखने के लिए अधिकृत किया है। जिला प्रशासन और चिकित्सा विभाग सम्बंधित हेल्थ केयर से दवायें प्राप्त कर रोगी का इलाज करायेगा। डीएम ने जिले के सभी निजी कोविड अस्पतालों को पत्र जारी कर निर्देशित किया है कि चिकित्सा इकाई में यदि रोगी को रेमेडीसिविर, टोकिलियूम्ब इंजेक्शन की जरूरत पड़ती है और रोगी अथवा उसके परिजन इन औषधियों का खर्चा वहन कर पाने की स्थिति में नही है तो अस्पताल प्रबंधन अपने स्तर पर इन दवाईयों को सम्बंधित रोगी को उपलब्ध करायेगा और खर्चा धनराशि के बिल बाउचर सीएमओ गाजियाबाद को उपलब्ध करायेगा। पूल बजट से इन औषधियों का भुगतान कराया जायेगा। डीएम के पत्र में यह हिदायत दी गयी है कि किसी भी रोगी को इन दवाईयों के अभाव में अथवा उपचार से वंचित ना किया जाये।
शुक्रवार को द गार्ड इंडस्ट्रीज मोहन नगर ने कारोना से पीड़ित गरीब वर्ग को बचाने और इलाज के लिए एक वेंटिलेटर, 200 पीपीई किट तथा 1000 एन-95 ट्रिपल लेयर मास्क जिला प्रशासन और चिकित्सा विभागको उपलब्ध कराने हेतु अपनी सहमति दी है। कैमिस्ट एवं ड्रग्स एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने भी अपनी सहमति दे दी है।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: