बाजपेयी की बात दिल तक पहुंचती है : रमन सिंह

0
30

रायपुर। छत्तीसगढ़ राज्य के निर्माता और देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी के जन्मदिन पर आयोजित सुशासन दिवस समारोह में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि अटल बिहारी बाजपेयी की बात दिल से निकलकर दिल तक पहुंचती है। किसी भी व्यक्ति का अटल के साथ बिताया गया पल, उस व्यक्ति के साथ धरोहर के रूप में रहता है। मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में मौजूद लोगों को सुशासन दिवस की शपथ दिलाई। इस दौरान जननी सुरक्षा योजना और बाल हृदय योजना के नाटक का मंचन कर लोगों तक पहुंचाया गया। साथ ही मुख्यमंत्री ने बाजपेयी के जन्मदिन पर ‘13 साल विकास के’ की थीम पर एक फोटो प्रदर्शनी का शुभारंभ किया। राज्य बनने के बाद से बाजपेयी का जन्मदिन प्रतिवर्ष 25 दिसंबर को सुशासन दिवस के रूप में मनाया जाता है। साथ ही राजधानी रायपुर के टाउन हॉल परिसर में एक फोटो प्रदर्शनी का आयोजन भी किया जाता है। इस वर्ष जनसंपर्क विभाग छत्तीसगढ़ द्वारा एक फोटो प्रतियोगिता भी आयोजित की गई थी, जिसमें ग्रामीण परिवेश, तीज-त्यौहार, कला एवं संस्कृति विषय पर प्रथम पुरस्कार रायपुर के राजेश कुमार सिन्हा, द्वितीय पुरस्कार जगदलपुर के अंजार नबी और तृतीय पुरस्कार लुजिना खान को दिया गया। साथ ही छत्तीसगढ़ शासन जनकल्याणकारी योजनाओं का क्रियान्वयन विषय पर रायपुर के रूपेश यादव को प्रथम पुरस्कार, जयंत नारायण को द्वितीय पुरस्कार और गोकुल सोनी को तृतीय पुरस्कार दिया गया। छत्तीसगढ़ के दर्शनीय स्थल के प्रथम एवं द्वितीय पुरस्कार के लिए कोई भी उपयुक्त नहीं मिला, इसलिए बिलासपुर के प्रांजल सिंह को तृतीय पुरस्कार दिया गया। रायपुर के टाउन हॉल में आयोजित यह फोटो प्रदर्शनी 25 दिसंबर से शुरू होकर 27 दिसंबर तक चलेगी। इस फोटो प्रदर्शनी में ‘13 साल विकास के’ थीम पर फोटो प्रदर्शनी लगाई गई है। इस प्रदर्शनी में पूर्व प्रधानमंत्री बाजपेयी के जीवन के कई मुद्राओं को प्रदर्शित किया गया है। यहां पर अटल बिहारी बाजपेयी के पारिवारिक जीवन से लेकर अब तक की तस्वीरें प्रदर्शित हैं। कार्यक्रम के दौरान विधानसभा अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष धरमलाल कौशिक, अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री सचिवालय बैजेंद्र कुमार और जनसंपर्क विभाग के सचिव संतोष मिश्रा उपस्थित थे।