मोटापे के खतरे को बढ़ा सकता है बैक्टीरिया: शोध

0
56

स्टॉकहोम (ईएमएस)। मोटापे की एक और वजह सामने आई है। शोधकर्ताओं का दावा है कि आंत में पाए जाने वाले बैक्टीरिया कुछ लोगों की सेहत के लिए लाभकारी होते हैं, तो कई लोगों में मोटापे के खतरे को भी बढ़ा सकते हैं। स्वीडन के शोधकर्ताओं का कहना है कि गट (आंत) बैक्टीरिया और मोटापे के बीच नए जुड़ाव का पता लगाने के लिए पशुओं पर अध्ययन किया गया। इसमें पाया गया कि रक्त में मौजूद कुछ खास एमिनो एसिड का मोटापा और गट बैक्टीरिया माइक्रोबायोटा से जुड़ाव हो सकता है। क्लीनिकल एंडोक्रिनालॉजी एंड मेटाबोलिज्म जर्नल में प्रकाशित अध्ययन के अनुसार, मोटापे से संबंधित मेटाबोलिक (चयापचय) का जुड़ाव आंत में पाए जाने वाले चार प्रकार के बैक्टीरिया ब्लाटिया, डोरिया, रुमिनोकोकस और एसएचए-98 से होता है। गट माइक्रोबायोटा हमारे मोटाबॉलिज्म पर असर डालता है और इसके चलते हृदय रोग और टाइप-2 डायबिटीज का खतरा भी बढ़ सकता है। शोधकर्ताओं ने यह निष्कर्ष 674 लोगों पर किए गए अध्ययन के आधार पर निकाला है।