नशे में सेट बाबू की हो गई शिकायत

0
3

गाजियाबाद (करंट क्राइम)। शराब के ठेकों को लेकर भले ही सर्वर डाउन हो गया हो लेकिन ठेकों की तैयारी से पहले ही जिला मुख्यालय के बाबुओं के बीच कंप्यूटर को लेकर नोंकझोक हो गई। जिला मुख्यालय के एक बाबू ने दूसरे बाबू पर शराब पीकर अभद्र व्यवहार करने का आरोप लगाते हुए शिकातय की है।
मामला 6 मार्च का बताया जाता है। बताते हैं कि आॅनलाइन आवेदन पत्रों की जांच के लिए रात में ही बाबुओं की ड्यूटी लगाई गई थी। अब एक विभाग के बाबू द्वारा दो अन्य कंप्यूटर उपलब्ध कराए गए थे। जब काम चल रहा था तो एक बाबू ने कमरे में एंट्री मारी और काम कर रहे दूसरे विभाग के कर्मचारी से ऊंची आवाज में पूछा कि आप मेरे कंप्यूटर पर कैसे बैठे हो। आप को किसने आदेश दिया है। इस दौरान वहां मौजूद एक कर्मचारी ने कहा कि इस संबंध में बड़े प्रशासनिक अधिकारी से अनुमति ली गई है। तब सवाल पूछ रहे बाबू ने शराब के नशे में दूसरे बाबू से भी अभद्रता पूर्ण व्यवहार किया और कहा कि आप अपने विभाग से कंप्यूटर लेकर क्यों नहीं आएं।
मामला यहां तक आ गया कि बाबुओं में तकरार होने लगी और तकरार में कहा गया कि सरकार का काम कर रहे हैं, कोई निजी काम नहीं कर रहे है। सूत्र बताते हैं कि लगभग आधे घंटे तक शराब के नशे में एक बाबू अन्य बाबुओं को अभद्र भाषा में अपनी बात कहते रहे। अब पहले बाबू ने दूसरे बाबू के द्वारा शराब के नशे में ऊंची आवाज में बोलने को शासकीय कार्य में बाधा माना है।
उन्होंने फोन पर ही वैसे तो बड़े अधिकारी को पूरी स्थिति बता दी थी। सूत्र बताते हैं कि अब मामला मौखिक से लिखित में आ गया है। पहले बाबू ने दूसरे बाबू के खिलाफ लिखित शिकायत दर्ज कराई है और कहा है कि इस संबंध में आवश्यक कार्रवाई की जाए। बताते हैं कि मामला जांच की चौखट पर आ गया है। यह किस्सा अब जिला मुख्यालय के गलियारों में गंूज रहा है। मामला दो विभागों के बीच इस लड़ाई का है कि बिना पूछे सीट पर कैसे बैठ गए।
दूसरे पक्ष का कहना है कि सीट का मामला होता तो कोई बात नहीं थी लेकिन यहां तो मामला शराब पीकर अभद्र व्यवहार करने का है और हम कौन सा अपने आप कंप्यूटर पर जाकर बैठ गए थे। सरकार का काम था और अधिकारियों की अनुमति के बाद ही जाकर बैठे थे।