अजीम प्रेमजी ने 52750 करोड़ के शेयर किए दान

0
64

मुंबई (ईएमएस)। भारत की तीसरी सबसे बड़ी आईटी कंपनी विप्रो के चेयरमैन अजीम प्रेमजी ने विप्रो लिमिटेड के 34 फीसदी शेयर परोपकार के लिए देने का फैसला किया है जिसका बाजार मूल्य 52,750 करोड़ रुपए है। वह अजीम प्रेमजी फाउंडेशन के जरिए लोगो की मदद करने का काम करते हैं। इसमें वह अब तक 1.45 लाख करोड़ रुपए दे चुके हैं। दिसंबर 2018 में विप्रो में प्रमोटर समूह की हिस्सेदारी 74.3 फीसदी थी। अब तक इतनी राशि किसी भी दानी ने दान नहीं की जिस कारण अजीम प्रेमजी इतिहास के सबसे बड़े दानी बन चुके है। अजीम प्रेमजी फाउंडेशन ने कहा कि अजीम प्रेमजी ने अपनी निजी संपत्तियों का त्याग कर, उसे धर्मार्थ कार्य के लिए दान कर परोपकार के प्रति अपनी प्रतिबद्धता बढ़ाई है।
अजीम प्रेमजी फाउंडेशन मुख्यत: शिक्षा के क्षेत्र में काम करता है। इसका लक्ष्य पब्लिक स्कूलिंग सिस्टम को बेहतर बनाना है। फाउंडेशन इस क्षेत्र में काम करने वाले कई एनजीओ को आर्थिक मदद भी देता है। प्रेमजी को फ्रांस का सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘शेवेलियर डी ला लीजन डी ऑनर’ भी मिल चुका है। उन्हें ये सम्मान समाजसेवा करने, फ्रांस में आर्थिक दखल और आईटी उद्योग विकसित करने को लेकर दिया गया। उनसे पहले ये सम्मान पाने वाले भारतीय बंगाली अभिनेता सौमित्र चटर्जी और बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान हैं। प्रेमजी के पिता हाशिम प्रेमजी भी अपने समय के जानेमाने व्यापारी थे। उन्हें बंटवारे के बाद जिन्ना ने पाकिस्तान का वित्त मंत्री बनाने का प्रस्ताव दिया था, लेकिन उन्होंने भारत में रहना ही पसंद किया।