ऑस्ट्रेलिया सऊदी युवती के शरणार्थी पुनर्वास पर करे विचार: संयुक्त राष्ट्र

0
84

बैंकॉक (ईएमएस)। संयुक्त राष्ट्र ने कहा है कि अपने परिवार को छोड़कर जाने वाली 18 साल की सऊदी महिला कानूनन शरणार्थी है और उसने ऑस्ट्रेलिया से उसके पुनर्वास को कहा है। ट्विटर पर इस संबंध में चले अभियान की वजह से समाधान निकलता दिख रहा है। रहाफ मोहम्मद अल-कुनून को बैंकॉक के मुख्य हवाईअड्डे पर अधिकारियों ने रोक लिया था। वह अपने परिवार को छोड़कर सप्ताहांत में कुवैत से एक उड़ान से यहां पहुंची थीं। किशोरी का कहना है कि परिवार ने उसका शारीरिक और मानसिक उत्पीड़न किया है। युवती ने इस्लाम धर्म छोड़ने का दावा करते हुए कहा कि अगर वह वापस लौटी तो परिवार के लोग उसे मार डालेंगे। थाइलैंड ने शुरू में कहा था कि वह उसे ऑस्ट्रेलिया जाने से रोकते हुए सऊदी दूतावास के अधिकारियों के अनुरोध पर निर्वासित करेगा। कुनून का कहना है कि उसका इरादा शरण मांगने का है। कुनून अब बैंकॉक में संयुक्त राष्ट्र की शरणार्थी एजेंसी के संरक्षण में हैं, जो उनके मामले को देख रही है। थाइलैंड ने बाद में रहाफ को वापस नहीं भेजने का भी ऐलान किया था।