झारखंड में आरजेडी को एक और झटका, गिरिनाथ सिंह ने थामा भाजपा का दामन

0
55

रांची (ईएमएस)। झारखंड में आरजेडी को एक बार फिर जोर का झटका लगा है। प्रदेश अध्यक्ष अन्नपूर्णा देवी के बाद अब पूर्व प्रदेश अध्यक्ष गिरिनाथ सिंह ने भी भाजपा का दामन थाम लिया। दिल्ली में भाजपा मुख्यालय में रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने उन्हें पार्टी की सदस्यता ग्रहण कराई। इस दौरान गिरिनाथ सिंह ने कहा कि उनके पिता जनसंघ के संस्थापक सदस्य थे। ऐसे में उऩकी घर वापसी हुई है। गिरिनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंदग्र मोदी और सीएम रघुवर दास के कामकाज को देखकर भाजपा में शामिल होने का फैसला लिया। चतरा सीट पर चुनाव लड़ने के सवाल पर उन्होंने कहा कि इस पर केन्द्रीय नेतृत्व फैसला लेगा। लोकसभा चुनाव में भूमिका के सवाल पर गिरिनाथ ने कहा कि आगे पार्टी के आदेश पर काम करता रहूंगा. गढ़वा से चार बार विधायक रहे गिरिनाथ सिंह सूबे में आरजेडी के संस्थापक सदस्य थे। दो दिन पहले उन्होंने आरजेडी से इस्तीफा दे दिया था, जिसे बाद में वापस ले लिया गया लेकिन, 27 मार्च को पलामू संसदीय सीट से घूरन राम को टिकट दिए जाने पर उन्होंने विरोध जताया। पिता के निधन के बाद वर्ष 1993 के उपचुनाव पहली बार गिरिनाथ जनता दल से विधायक बने। बाद में लगातार 1995 और 2000 के चुनाव में उन्होंने जनता दल और राजद प्रत्याशी के तौर पर भाजपा के श्यामनारायण दुबे को हराया। 1997 में गिरिनाथ राबड़ी देवी मंत्रीमंडल में राज्यमंत्री भी बने। गिरिनाथ पिछले तीस साल से राजद से जुड़े हुए थे।