खुले बोरवेलों को लेकर सीएम अमरिंदर ने मांगी रिपोर्ट, फतेहवीर की मौत पर जताया दुख

0
326

चंडीगढ़ (ईएमएस)। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने संगरूर में बोरवेल में गिरे फतेहवीर की मौत पर दुख व्यक्त किया। उन्होंने ट्वीट किया, ‘फतेहवीर की दुखद मौत की खबर सुनकर बहुत दुख हुआ। वाहेगुरु से प्रार्थना करता हूं कि वह उसके परिवार को इस कष्ट को सहन करने की शक्ति दे। हादसे के बाद ही सीएम ने सभी डीसी से खुले बोरवेलों को लेकर रिपोर्ट मांगी है, जिससे भविष्य में ऐसे खतरनाक एवं जानलेवा हादसों से बचा जा सके। फिलहाल फतेहवीर का पोस्टमॉर्टम पीजीआई चंडीगढ़ में पांच डॉक्टरों के पैनल द्वारा किया जाएगा। पोस्टमॉर्टम के दौरान पंजाब सरकार की तरफ से मोहाली के एसडीएम मौजूद रहेंगे। जबकि पोस्टमॉर्टम पर परिवार के सवालों को देखते हुए फतेहवीर के दादा भी पोस्टमार्टम के समय अंदर ही रहेंगे। पीजीआई चंडीगढ़ के पोस्टमार्टम ब्वॉय प्रदीप ने बताया कि काफी क्षत-विक्षत हालत में उनके पास लाए शव में से दुर्गंध भी आ रही ह। शव को देखकर ऐसा लगता है कि बच्चे की मौत एक या दो दिन पहले ही हो चुकी थी।
बता दें कि पंजाब के संगरूर में बीते 110 घंटे से चल रहा रेस्‍क्यू ऑपरेशन आखिरकार विफल रहा। बोरवेल में गिरे दो वर्षीय मासूम फतेहवीर को बाहर तो आ गया, लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका। सोमवार देर रात जब उसे बाहर निकाला गया, तो वह मृत था। मामूल हो कि संगरूर में पांच दिन पहले फतेहवीर 150 फीट गहरे बोरवेल में गिर था। जिसके बाद से ही प्रशासन और गांव के लोग रात दिन उसे बाहर निकालने के प्रयास में लगे रहें। दरअसल, सात इंच चौड़ा यह बोरवेल कपड़े से ढका होने की वजह से मासूम को दिखा नहीं। जिाकी वजि से खेलते- खेलते वह इसमें गिर गया और मासूम की मां ने उसे बोरवेल में गिरते देख लिया। लेकिन जब तक वह वहां पहुंची मासूम बोरवेल में काफी नीचे जा चुका था। मौके पर मौजूद ग्रामीणों ने पहले तो खुद के स्तर पर ही बच्चे को निकालने की कोशिश की, लेकिन बाद में कुछ न होता देख प्रशासन को सूचित किया गया।