Current Crime
अन्य ख़बरें ग़ाजियाबाद

मतदान के बाद सभी प्रत्याशियों ने परिवार के साथ किया आराम

गाजियाबाद (करंट क्राइम)। 7 नवंबर को नामांकन करने के बाद सभी मेयर उम्मीदवार दिन रात चुनाव मैदान में थे। पूरा दिन गली मौहल्लों में जाकर चुनाव प्रचार करना और फिर देररात तक पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ चुनावी रणनीति पर विचार करना। कहां बैनर लगने हैं, कौन सी सभा की अनुमति लेनी है, किन विशेष व्यक्तियों से मुलाकात करनी है, किस क्षेत्र में डोर टू डोर वोट मांगने जाना है यह सभी बातें हर दल के मेयर उम्मीदवार की दिनचर्या का हिस्सा रही।
सुबह छह बजे से ही चुनावी दिनचर्या शुरू हो जाती थी और देररात तक चुनाव कार्यक्रम ही चलता था। इस बीच किसी भी उम्मीदवार को परिवार के लिए सोचने का भी समय नहीं मिला। 26 नवंबर को मतदान के बाद भी देरशाम तक उम्मीदवार अपने अपने चुनाव कार्यालयों पर मतदान को लेकर मंथन बैठक करते रहे। चुनावी मतदान को लेकर आंकड़े लगाये जाते रहे। 27 नवंबर की सुबह मेयर प्रत्याशियों ने अपने परिवार के संग काफी समय बाद समय गुजारा। भाजपा की मेयर प्रत्याशी आशा शर्मा ने कविनगर स्थित आवास पर रहकर अपने परिवार के साथ समय बिताया। इसके अलावा कांग्रेस की मेयर प्रत्याशी डॉली शर्मा ने भी पिता व कांग्रेस महानगर अध्यक्ष नरेंद्र भारद्वाज व परिवार के सदस्यों के साथ अपना समय व्यतीत किया। समाजवादी पार्टी की मेयर उम्मीदवार राशि गर्ग ने पति अभिषेक गर्ग के साथ घर पर रहकर अपने परिजनों को समय दिया। बसपा की मेयर उम्मीदवार मुन्नी चौधरी ने परिवार जनों खासतौर पर पति सत्यपाल चौधरी के साथ रहकर समय गुजारा। वहीं मुरादनगर से भाजपा प्र्रत्याशी विकास तेवतिया ने भी अपने शुभ चिन्तिकों के साथ समय बिताया।
सोमवार को लंबी भागदौड़ के बाद मेयर पद के उम्मीदवार अपने परिजनों के बीच रहे और अपनी थकान मिटाई। इसी बीच परिवार के सदस्यों की ओर से भी मेयर प्रत्याशियों के साथ खूब समय दिया गया।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: