दिन में नक़ाबपोश हमलावरों के साथ थीं आइशी घोष : एबीवीपी

0
74

नई दिल्ली (ईएमएस)। दिल्ली के प्रतिष्ठित शिक्षण संस्थान जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) में नकाबपोशों की हिंसा के विरुद्ध देश में सख्त प्रतिक्रिया देखने को मिली है। देश के तमाम परिसरों के अलावा अमेरिका में ऑक्सफोर्ड व कोलंबिया यूनिवर्सिटी में भी प्रदर्शन हुए। छात्रों और राजनीतिक दलों से लेकर उद्योगपतियों तक ने हिंसा पर विरोध व्यक्त किया है। विपक्ष ने सीधे भाजपा को जिम्मेदार ठहराया है। वहीं देश के कई विश्वविद्यालयों में प्रदर्शन हो रहे हैं। इस हमले को लेकर लेफ्ट और एबीवीपी के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है। जेएनयू कैंपस में नकाबपोश हमलावरों ने छात्रों की पिटाई की थी जिसके खिलाफ लेफ्ट विंग का कहना है कि हमला भाजपा की छात्र ईकाई एबीवीपी के लोगों ने किया था, जबकि एबीवीपी की तरफ से एक वीडियो ट्वीट कर दावा किया जा रहा है कि जेएनयूएसयू अध्यक्ष आइशी घोष नकाबपोश हमलावरों के साथ थीं। एबीवीपी ने लिखा कि छात्रों पर हमला करने और फिर उसका दोष एबीवीपी पर डालने का षडयंत्र एक बार फिर सामने आ गया है।