लापता विदेशी पर्यटकों के हो सकते हैं नंदा देवी में मिले 7 शव

0
168

देहरादून (ईएमएस)। भारत-तिब्बत सीमा पुलिस बल (आईटीबीपी) ने नंदा देवी के पास सात शव बरामद किए हैं। बताया जा रहा है कि ये शव हिमस्खलन में मारे गए विदेशी पर्यटकों के हैं । सभी विदेशी पर्वतारोही तीन सप्ताह पहले लापता हो गए थे। खोजी अभियान के दौरान वायुसेना के विमानों ने नंदा देवी पूर्वी चोटी के पास इन शवों को देखा था।
आठ सदस्यों के विदेशी पर्वतारोहियों के दल में ब्रिटेन, अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया के पर्वतारोही थे। यह टीम उत्तराखंड के पिथौरागढ़ जिले में 7434 मीटर ऊंचे नंदा देवी पूर्वी चोटी पर लापता हो गई थी। यह दल भारत में सबसे ऊंची और सबसे दुर्गम चोटियों में से एक लगभग 24,000 फीट ऊंची नंदा देवी की पूर्वी चोटी पर जाना चाहता था।
नई दिल्ली में भारतीय पर्वतारोही फाउंडेशन के एक संपर्क अधिकारी के साथ यह दल चोटी की चढ़ाई करने के लिए 13 मई को मुनसियारी से निकले थे लेकिन 25 मई की तय तारीख पर आधार शिविर नहीं लौटे और लापता हो गए इस टीम की अगुवाई ब्रिटिश पर्वतारोही मार्टिन मोरन कर रहे थे।
मोरन के अलावा ब्रिटेन के जॉन मैक्लॉरेन, रिचर्ड पायने, रूपर्ट हावेल हैं। अमेरिका के एंथनी सुडेकम और राचेल बिम्मेल, आस्ट्रेलिया के रूथ मैक्रेन और भारतीय पर्वतारोहण संस्थान के चेतन पांडे शामिल थे।