Current Crime
राज्य

निशंक की अपील पर 2500 कोरोना पीड़ितों को मिली कोरोनिल किट

नई दिल्ली| केंद्रीय शिक्षा मंत्री एवं हरिद्वार से लोक सभा सांसद डॉ रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ की अपील पर योग गुरु बाबा रामदेव की पतंजलि योगपीठ ने हरिद्वार में 2500 कोरोना पीड़ितों को कोरोनिल किट वितरित की। ये किट उन मरीजों को दी गई है जो घर पर रहकर अपना इलाज करवा रहे हैं। सभी मरीजों को चल रहे उपचार के साथ कोरोनिल किट में दी गई आयुर्वेदि औषधियों का सेवन करने की सलाह दी गई है ताकि उनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढे।

पतंजलि योगपीठ के मुताबिक कोरोनिल किट के सेवन से लोगों की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है जिससे कोरोना जैसी महामारी से लड़ने में मदद मिलेगी। इस अवसर पर डॉ निशंक ने कहा, “देश के डॉक्टर, वैज्ञानिक एवं दवाई बनाने वाली सभी कंपनियां अपनी अपनी तरह से इस महामारी से लड़ने का प्रयास कर रही हैं। जहां एक तरफ डॉक्टर लगातार मरीजों की देखरेख एवं सेवा कर रहे हैं वहीं वैज्ञानिकों एवं दवा बनाने वाली कंपनियों ने बेहद कम समय में वैक्सीन बना कर बड़ी राहत प्रदान की है।”

निशंक ने कहा कि पूरे विश्व में भारत में निर्मित कोविशील्ड एवं कोवैक्सीन इस महामारी से लड़ने में सबसे कारगर बताई गई हैं। इसके अलावा हमें अपने आयुर्वेद को नहीं भूलना चाहिए जिसका लोहा पूरे विश्व ने माना है। योग गुरु बाबा रामदेव ने पिछले वर्ष ही रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए कोरोनिल औषधि बना ली थी। इससे लोगों को काफी राहत भी मिली है। इसलिए मैंने उनसे आग्रह किया कि वो इस औषधि को हरिद्वार में कोरोना पीड़ितों, जो कि होम क्वारंटीन में हैं, को यह औषधि वितरित करें ताकि वो जल्द से जल्द स्वस्थ हो सकें। यह दवा सभी 2500 परिवारों को मुफ्त में प्रदान की जाएगी।

निशंक ने अपनी सांसद निधि से केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय एवं आईसीएमआर द्वारा हरिद्वार में चिन्हित किए गए चार सरकारी डी सी एच सी बाबा बफार्नी, बेस हॉस्पिटल, मेला हॉस्पिटल और सिविल हॉस्पिटल रूडकी में से दो केंद्रों में 20 बीआईपीएपी मशीनें, 200 टाइप डी ऑक्सीजन सिलेंडर, 2 आई-स्टैट एबीजी, 50 आई-स्टैट एबीजी 100 काटिर्र्ज, 2 शार्प ब्लास्टर, 100 बीआईपीएपी मास्क एवं 1 ऑक्सीजन प्लांट के लिए 1.5 करोड़ रुपए की राशि दी है।

वहीं ऋषिकेश के एस पी एस राजकीय चिकित्सालय में 5 वेंटिलेटर, 50 डी टाइप जंबो सिलेंडर, 20 सेमि फ्लोर बेड, 20 बेड साइड लाकर और 20 आई वी स्टैंड के लिए 60 लाख 60 हजार रुपए की राशि प्रदान की थी।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: