हरियाणा में हर साल होती 1000 हजार लोगों की हत्या, गुरुग्राम शीर्ष पर

0
444

गुरुग्राम (ईएमएस)। हरियाणा राज्य में हर साल 1000 लोगों की हत्याएं हो रही हैं। हरियाणा में बीते पांच वर्षों में 5043 लोगों को मौत के घाट उतार दिया गया। ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ अभियान चलाने वाली भाजपा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल के कार्यकाल में राज्य में 4947 बलात्कार के मामले सामने आए हैं।
ये बात हम नहीं कह रहे हैं, बल्कि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने ये आंकड़े खुद विधानसभा में कांग्रेस विधायक कर्ण सिंह दलाल के सवाल का जवाब देते हुए पेश किए। सीएम ने सदन में बताया कि बच्चों के साथ यौन शोषण के मामलों में पॉस्को एक्ट के तहत 3674 केस दर्ज किए गए हैं। इसी प्रकार पिछले 5 साल में महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराधों का आंकड़ा 42265 रहा। सदन में पेश किए आंकड़ों को मानें तो हत्या की सबसे ज्य़ादा वारदातें गुरुग्राम में हुई। वहां 470 लोगों को मौत की नींद सुला दिया गया। इसी तरह सोनीपत में 448, रोहतक में 319, फरीदाबाद में 337 और मुख्यमंत्री के गृह जनपद करनाल में 318 लोगों को पिछले पांच वर्षों में कत्ल कर दिया गया। सदन में पेश किए गए आंकड़े नवंबर 2014 से जुलाई 2019 तक के हैं। इस दौरान राज्य में हत्या के मामलों में 953 को, रेप के मामलों में 249 और अन्य मामलों में 1361 आरोपियो को दोषी करार दिया गया। प्रदेश में 5 वर्षों के दौरान एससी एसटी एक्ट के तहत 3695 केस दर्ज किए। जिनमें सबसे ज्यादा 303 केस भिवानी जिले में दर्ज किए गए। इसी प्रकार फरीदाबाद जिले में 285, हिसार में 280, रोहतक में 243 मामले दर्ज हुए। अम्बाला में यह आंकड़ा 92 था तो चरखी दादरी में 101 फतेहाबाद में 122 तो गुरुग्राम में 190 मामले थे।