लैब की फ्रेंचाइजी दिलाने के नाम पर १ करोड़ ठगी

0
44

गुरुग्राम (ईएमएस) | एक पैथालॉजी लैब की फ्रेंचाइजी दिलाने के नाम पर 1.06 करोड़ रु की ठगी का मामला सामने आया है। लैब कंपनी की याचिका पर सुनवाई करते हुए जिला अदालत ने डीएलएफ फेज दो थाना पुलिस को मामला दर्ज करने के आदेश दिए हैं। पुलिस मामले की जांच कर रही है। गुरुग्राम पुलिस के मुताबिक हज केयर कंपनी का मुख्यालय डीएलएफ फेज दो में है। तीन साझीदार डॉ. हीमन वर्मा, अमित पाहवा व जसमीत सिंह ठक्कर हैं। जसमीत सिंह ठक्कर ने अदालत में याचिका लगाई है, जिसमें उन्होंने कहा है कि उनकी बात पैथलॉजी लैब बनाने के लिए मैसर्स सेरा क्यू लैब के सीईओ दिलप्रीत शाही, हरमोहिन्द्र सिंह, निदेशक ऋतु शाही, गुरप्रीत कौर, अनुज भारद्वाज, अरविन्द्र सिंह से हुई थी। उनके बीच जून 2015 में समझौता हुआ। उन्होंने 1.06 करोड़ रुपये का भुगतान किया था। बाद में पता लगा कि आरोपियों ने धोखाधड़ी कर रुपये ले लिए। उनके द्वारा किया गया समझौता भी फर्जी है।