Current Crime
देश

‘वॉट्सऐप जासूसी’ गैरकानूनी, असंवैधानिक और शर्मनाक – सोनिया गांधी

नई दिल्ली (ईएमएस)। कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने ‘वॉट्सऐप जासूसी’ मामले में स्पाइवेयर के जरिए नेताओं, पत्रकारों और सामाजिक कार्यकर्ताओं की जासूसी के लिए सरकार को जिम्मेदार बताते हुए कहा कि यह गैरकानूनी, असंवैधानिक और शर्मनाक है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों की वजह से अर्थव्यवस्था खस्ता हाल है और पिछले 8 सालों में 90 लाख लोगों के रोजगार छिने हैं।
जासूसी मामले पर मोदी सरकार की आलोचना करते हुए सोनिया गांधी ने कहा, ‘हालिया खुलासे चौंकाने वाले हैं कि मोदी सरकार के द्वारा हासिल किए गए इजरायली सॉफ्टवेयर पेगासस के जरिए ऐक्टिविस्टों, पत्रकारों और नेताओं की जासूसी की गई। ये गतिविधियां न सिर्फ गैरकानूनी और असंवैधानिक हैं बल्कि शर्मनाक भी हैं।’
अर्थव्यवस्था के मुद्दे पर मोदी सरकार को घेरते हुए सोनिया गांधी ने कहा, ‘पहली तिमाही में जीडीपी ग्रोथ सिर्फ 5 प्रतिशत है। बेराजगारी दर 8.5 प्रतिशत है जो चिंताजनक है। हालिया अध्ययन बताते हैं कि नोटबंदी, जीएसटी और उसके बाद मोदी सरकार द्वारा लिए गए आर्थिक फैसलों से 6 सालों में 90 लाख रोजगार अभूतपूर्व ढंग से खत्म हुए हैं।’
बता दें कि इस हफ्ते वॉट्सऐप ने खुलासा किया कि इजरायली सॉफ्टवेयर पेगासस का इस्तेमाल करके दुनियाभर में करीब 1400 ऐक्टिविस्टों, पत्रकारों, नेताओं, अकैडमियंस के फोन हैक किए गए। वॉट्सऐप को इस साल मई में इसकी जानकारी मिली थी। जिन लोगों की जासूसी की गई, उनमें भारत के भी कई पत्रकार, ऐक्टिविस्ट और नेता भी शामिल हैं। हालांकि, वॉट्सऐप ने इससे प्रभावित भारतीयों की संख्या नहीं बताया है।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: