अयोध्या मामला के फैसले की घड़ी करीब, खुफिया एजेंसियां अलर्ट आईबी ने अयोध्या, काशी और मथुरा में डाला डेरा

0
2

लखनऊ (ईएमएस)। अयोध्या प्रकरण पर सुप्रीम कोर्ट के संभावित फैसले के मद्देनजर संवेदनशीलता को देखते हुए केंद्रीय खुफिया एजेंसी (आईबी) ने यूपी के सभी प्रमुख धार्मिक स्थलों की सुरक्षा का नए सिरे से आकलन करना शुरू कर दिया है। आईबी की टीमों ने अयोध्या, वाराणसी व मथुरा में डेरा डाला हुआ है। अयोध्या के मामले में फैसला आने की संभावना के बाद पिछले दिनों कुछ आतंकी संगठनों के भी सक्रिय होने की जानकारी खुफिया एजेंसी को मिल चुकी है। खुफिया एजेंसी के एक उच्च अधिकारी ने टीम के साथ वाराणसी में काशी विश्वनाथ, संकट मोचन व अन्य प्रमुख मंदिरों के सुरक्षा प्रबंधों को परखा है। अयोध्या और मथुरा में भी ऐसा जायजा लिया गया है। आईबी पिछले दो-तीन दिन से यह कवायद कर रही है। अयोध्या प्रकरण पर अदालत का फैसला आने के बाद हालात बिगडऩे के अंदेशे को लेकर आईबी ने राज्य सरकार को पहले से ही चेताया हुआ है। हालांकि यूपी सरकार के अधिकारी इसे सामान्य अलर्ट बता रहे हैं, पर आईबी के प्रमुख धार्मिक स्थलों पर डेरा डाले जाने के कुछ और ही मायने निकल रहे हैं।
राज्य के अफसरों से सुरक्षा पर करेंगे चर्चा
जानकारी के मुताबिक सुरक्षा के मुद्दे पर आईबी के उच्च अधिकारी जल्द राज्य सरकार के आला अफसरों के साथ विमर्श करेंगे। इसमें कहां क्या प्रबंध किए जाने हैं, इस पर चर्चा होगी। खुफिया जानकारियों को भी साझा किया जाएगा।
कमलेश की हत्या के बाद एटीएस-एसटीएफ सतर्क
लखनऊ में हिंदू समाज पार्टी के अध्यक्ष कमलेश तिवारी की हत्या में आतंकी संगठनों की विचारधारा से प्रेरित कट्टरपंथी युवकों के समूह (रैडिकलाइज्ड यूथ) के सदस्यों के नाम सामने आने के बाद खुफिया व सुरक्षा से जुड़ी एजेंसियां भी अलर्ट हो चुकी हैं। राज्य सरकार भी स्टेट इंटेलिजेंस, एटीएस व एसटीएफ को सतर्क रहने के साथ प्रमुख धार्मिक व संवेदनशील स्थलों पर चौकसी रखने को कहा गया है।