Breaking News
Home / अन्य ख़बरें / तिरंगे वाली संघ प्रचार प्रमुख की टिप्पणी पर मेयर का नो कमेंट

तिरंगे वाली संघ प्रचार प्रमुख की टिप्पणी पर मेयर का नो कमेंट

गाजियाबाद (करंट क्राइम)। भाजपा में संघ की अपनी भूमिका होती है। यह एक आम धारणा है कि संघ के नेता या तो किसी मुद्दे पर सार्वजनिक रूप से विचार नहीं रखते हैं, यदि उन्होंने किसी भी विषय पर अपना विचार सार्वजनिक रूप से रखा है तो फिर भाजपा के लिए वह एक तरीके से आदेश होता है। यहीं संघ की खूबी है और यहीं भाजपा की पहचान है कि वह संघ के निर्देशों, सुझावों को कभी इग्नोर नहीं करती है। लेकिन गाजियाबाद में ऐसा लग रहा है कि नई भाजपा का उदय हो गया है। एक ऐसी भाजपा जो संघ के आदेशों या सलाहों पर ध्यान देने की जरूरत नहीं समझ रही है।
गौरतलब है कि संघ के महानगर प्रचार प्रमुख विपिन त्यागी ने बीएसआर औद्योगिक क्षेत्र में स्थित श्यामाप्रसाद मुखर्जी पार्क में लाखों रुपये की लागत से स्थापित होने वाले सबसे ऊंचे राष्ट्रीय ध्वज को लेकर सोशल मीडिया पर सवाल उठाया था। उनका सवाल बेहद तार्किक भी था और सवाल में ही उन्होंने उस भाजपा को आईना दिखाया जो श्यामाप्रसाद मुखर्जी पार्क में यदा कदा ही नजर आती है।
बड़ी बात यह है कि एक तरफ संघ के महानगर प्रचार प्रमुख ने सवाल उठाया तो दूसरी तरफ निर्वतमान मेयर अशु वर्मा इस झंडे को अपनी उपलब्धि मान रहे हैं।
संघ महानगर प्रचार प्रमुख की ओर से उठाये गये सवाल को मेयर अशु वर्मा ने सिरे से खारिज करते हुए कहा कि उनके संज्ञान में मामला नहीं है और मुझे इस मुद्दे पर कुछ कहने की आवश्यकता नहीं है। अब भाजपा खेमे में ही इस बात को लेकर चर्चा शुरू हो गई। भाजपा का एक खेमा मान रहा है कि आज कल सोशल मीडिया के युग में ऐसा हो हीं नहीं सकता कि महानगर प्रचार प्रमुख कोई मुद्दा सोशल मीडिया पर पोस्ट करें और शहर के मेयर को इसकी जानकारी ही ना हो।

Check Also

मैट्रो विस्तीकरण के संशोधित डीपीआर के फंडिंग पैटर्न को लेकर हुआ विचार विमर्श

Share this on WhatsAppगाजियाबाद (करंट क्राइम)। जीडीए उपाध्यक्ष के कार्यालय में मैट्रो रेल विस्तीकरण हेतु …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *