Breaking News
Home / अन्य ख़बरें / मुस्लिम-जाटवों के बीच बढ़ रही है आपसी विरोध की चिंगारी

मुस्लिम-जाटवों के बीच बढ़ रही है आपसी विरोध की चिंगारी

वरिष्ठ संवाददाता (करंट क्राइम)

गाजियाबाद। जिले में मुस्लिमों और जाटवों के बीच विवाद की घटनाओं को लेकर बसपा सपा भले ही खामोश हैं लेकिन पुलिस मान रही है कि विरोध की ये चिंगारी कभी भी भड़क सकती है। जिले के पुलिस अधिकारियों का पत्राचार इसी की ओर ईशारा कर रहा है। मोदीनगर के एक इलाके में रहने वाले मुस्लिमों और जाटवों का बाईक खड़ी करने को लेकर विवाद हुआ था। 25 जून को इस मामले में पुलिस ने दोनों पक्षों के खिलाफ शांति भंग की धाराओं में कार्यवाही की थी। पांच जुलाई को इसी मामले में जाटव पक्ष के लोगों ने मुस्लिम समुदाय के चार से अधिक लोगों के खिलाफ दलित एक्ट के तहत भी मुकदमा दर्ज करा दिया था। अब ये बताया जाता है कि मुस्लिम-जाटवों में से एक पक्ष समझौते बनाने का दबाव बना रहा था।
28 जुलाई को इलाके के ही मुस्लिम-जाटव में से दो युवकों के खिलाफ निवाड़ी थाने में जानलेवा हमला करने के प्रयास का मुकदमा दर्ज करा गया। उक्त क्षेत्र में जाटव और मुस्लिम मिश्रित आबादी है। यहां कई बार छोटी छोटी बातों पर जाटवों, बाल्मीकियों और मुस्लिमों के बीच कहा-सुनी, मार पीट आदि होती रहती है। अब दोनों समुदायों में से एक पक्ष मुकदमा वापिस लेने के लिए दबाव बना रहा है।
पुलिस मान रही है कि जाटवों और मुस्लिमों के मध्य हुई इस घटना से आपसी कटुता बढ़ रही है। वहीं मोदीनगर के अलावा विजयनगर थाना क्षेत्र के प्रताप विहार इलाके में भी बाल्मीकि और मुस्लिम मिश्रित आबादी रहती है। यहां बाल्मीकि समाज के लोग सी ब्लॉक के पास बाल्मीकि चौक बनाकर महर्षि बाल्मीकि की मूर्ति स्थापित करना चाहते हैं। लेकिन यहां पर भी कुछ विरोध के स्वर सुनाई दे रहे हैं। पुलिस प्रशासन मान रहा है कि यहां ध्यान नहीं दिया गया तो इसी बात को लेकर विवाद हो सकता है।

Check Also

छात्रा को मिले इंसाफ: यादव महासभा

Share this on WhatsAppगाजियाबाद (करंट क्राइम)। यादव महासभा गाजियाबाद में मोदी नगर थाना क्षेत्र में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code