सीसी टीवी कैमरों की व्यवस्था सुचारू रखें दिल्ली में पैदल चलना खतरनाक, मरने वालों की तादाद 10 फीसदी बढ़ी हजारों बंदर, पकड़नेवाला सिर्फ एक, एमसीडी को बंदर पकड़ने वालों की तलाश हिंदू महासभा ने छात्रों का निलम्बन वापस पर जताई नाराजगी युवती की गर्दन और हाथ कटी मिली लाश मोदी और राहुल की लोकप्रियता में ज्यादा अंतर नहीं रहा केजरीवाल और अमरिंदर सिंह की लोकप्रियता बरकरार हार्दिक पटेल मध्यप्रदेश में सक्रिय 82 साल की उम्र में पक्की हुई शांति देवी फसल के पैसे सीधे पहुंचेंगे किसानों के खाते में भगोड़े शराब कारोबारी माल्या की गाड़ियां होंगी नीलाम
Home / अन्य ख़बरें / गांधी की तस्वीर नोटों पर से धीरे-धीरे हटाई जाएगी : अनिल विज

गांधी की तस्वीर नोटों पर से धीरे-धीरे हटाई जाएगी : अनिल विज

अंबाला| हरियाणा में मनोहरलाल खट्टर की सरकार में मंत्री अनिल विज के बयान से एक ताजा विवाद पैदा हो गया है। उन्होंने शनिवार को कहा कि भारतीय नोटों पर से भी धीरे-धीरे महात्मा गांधी की तस्वीर हटा दी जाएगी और गांधी की तुलना में मोदी अधिक लोकप्रिय हैं। विज ने कहा, “जिस दिन से रुपये पर गांधी की तस्वीर छपनी शुरू हुई, उसकी कीमत घटनी शुरू हो गई। धीरे-धीरे हम उनकी तस्वीर को नोटों पर से हटा देंगे।”

मंत्री ने हालांकि बाद में महात्मा गांधी के खिलाफ अपना बयान वापस ले लिया।

सारा विवाद खादी ग्रामोद्योग आयोग (केवीआईसी) के नए साल के कैलेंडर व डायरी पर महात्मा गांधी की जगह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर छपने के बाद शुरू हुआ है।

अंबाला में एक सार्वजनिक सभा में विज ने विवाद को और हवा देते हुए कहा, “महात्मा गांधी के नाम से खादी उत्पादों की बिक्री घट गई। जिस दिन महात्मा गांधी की तस्वीर रुपये पर छपी, उसकी कीमत घटनी शुरू हो गई। कैंलेंडर व डायरी पर गांधी की जगह मोदी की तस्वीर लगाने का फैसला बिल्कुछ सही है।”

उन्होंने कहा, “खादी के साथ मोदी के जुड़ने से खादी के उत्पादों की बिक्री में 14 फीसदी की इजाफा हुआ है। खादी के लिए गांधी की जगह मोदी बड़े ब्रैंड नेम हैं।”

Check Also

नगर पालिका परिषद द्वारा छोड़े गये आधे अधूरे कामो के चलते दुकानदारों को हो रही परेशानी बरसात के बाद हुआ दुकानो के आगे जलभराव।

नगर पालिका परिषद द्वारा छोड़े गये आधे अधूरे कामो के चलते दुकानदारों को हो रही …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *