Breaking News
Home / अन्य ख़बरें / भाजपा के प्राणायाम को साईकिल की चुनौती

भाजपा के प्राणायाम को साईकिल की चुनौती

गाजियाबाद (करंट क्राइम)। 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस है। भाजपा अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस को विशेष रूप से मना रही है और इसी के जरिये वह अपनी राजनीतिक सांसों की ताकत को भी योग के बहाने तोलेगी। वहीं सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर ही अपनी ताकत का मुलाहिजा करने की तैयारी की है। ये वही मौका होगा जब सपाई सड़कों पर उतरकर साईकिल चलाएंगे और अपनी ताकत का अहसास कराएंगे। खास बात यह है कि साईकिल यात्रा को सपा ने योग से जोड़ लिया है। सपा के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने सभी जिला अध्यक्षों, महानगर अध्यक्षों, महासचिव, पूर्व सांसद, पूर्व विधायक, विधायक सभी प्रकोष्ठों के अध्यक्ष व पदाधिकारियों को जो पत्र भेजा है उसमें कहा है कि मनुष्य को स्वस्थय रहने के लिए व्यायाम, योगासन, मॉर्निंग वॉक, खेलकूद, साईकिलिंग आदि गतिधियां लाभप्रद होती हैं। इसके लिए प्रदूषण रहित वातावरण की आवश्यकता होती है। ऐसी दशा में समाजवादियों का कर्तव्य बनता है कि जनमानस को पर्यावरण तथा स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करें। 21 जून को सपा पूरे प्रदेश में साईकिल यात्रा निकालेगी और इसमें सपा के कार्यकर्ता से लेकर सभी पदाधिकारी शामिल होंगे। खास बात ये है कि भाजपा जहां अपना योगासन पार्कों में करेगी वहीं सपा ने अपने पत्र में कहा है कि अपने घर में योग एवं व्यायाम को दिनचर्या का एक भाग बनाएं। अब योग भी सियासी खेमों में बंट गया है। भाजपा वाले पार्क में जाकर एक दिन योग करेंगे तो सपा कह रही है कि अपने घर में रोजाना योग करें। बहरहाल 21 जून को सपाईयों के लिए भी चुनौती होगी कि वह अधिक से अधिक लोगों को साईकिल पर सवार करायें। कुछ भी हो लेकिन ये भी तय है कि साईकिल वालों ने फूल वालों के अनुलोम विलोम में अपनी सियासी एंट्री कर दी है।

Check Also

मैट्रो विस्तीकरण के संशोधित डीपीआर के फंडिंग पैटर्न को लेकर हुआ विचार विमर्श

Share this on WhatsAppगाजियाबाद (करंट क्राइम)। जीडीए उपाध्यक्ष के कार्यालय में मैट्रो रेल विस्तीकरण हेतु …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *